बदहाल जिंदगी जीने को मजबूर परसबनी पहाड़िया टोला के ग्रामीण

0
162


दुमका(झारखण्ड ब्यूरो)-
जिला के जरमुंडी प्रखंड के अंतर्गत कुशमाहा पंचायत के पहाड़िया टोला परसबनी के ग्रामीण बदहाली की जिंदगी गुजार रहे हैं। सरकार द्वारा दी जाने वाली आधारभूत सुविधा के नाम पर लगभग बीस आदिम जनजाति परिवारों वाले इस गांव में सिर्फ पेयजल की सुविधा के लिए नल की व्यवस्था है। ग्रामीण नंदे पुजहर, श्याम पुजहर, मालोती देवी, सुमा देवी, उर्मिला देवी, सधिया देवी, उमा देवी आदि का कहना है कि हम ग्रामीणों को सरकार द्वारा मिलने वाली सुविधा का लाभ नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने अपनी बदहाली के बारे में बताया कि वे लोग सड़क, बिजली, इंदिरा आवास, शौचालय जैसे मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं। उनका कहना है कि कुछ लोगों को लगभग बीस वर्ष पहले इंदिरा आवास मिला था जो अब जर्जर हो चुका है तथा यातायात के लिए पक्की सड़क तो है परंतु यह सड़क भी खस्ताहाल है|

बिजली व्यवस्था के नाम पर बिजली पोल एवं उसमें तार तो लगाया गया है लेकिन हमारी बदहाली का आलम यह है कि हमारे गांव में बिजली आपूर्ति नहीं की जा रही है जिससे हम अंधेरे में जीने को विवश है और तो और स्वच्छ भारत अभियान के तहत ग्रामीण क्षेत्रों को गंदगी मुक्त करने हेतु सरकार द्वारा शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है परंतु इस पहाड़िया टोला में एक भी शौचालय का निर्माण नहीं कराया गया है जबकि इसी गांव के अन्य टोले में शौचालय का निर्माण हो रहा है। ग्रामीणों ने अपनी समस्या संबंधी गुहार मुखिया से लगाई परंतु उनके स्तर से अब तक कोई पहल नहीं किया गया है।

रिपोर्ट- धनंजय कुमार सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here