जिंदगी और मौत की जंग में आख़िरकार हार गया प्रदीप

0
126

मुसाफिरखाना/अमेठी (ब्यूरो)- जिले के मुसाफिरखाना कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पिंडारा महाराज निवासी प्रदीप कुमार पुत्र रामसहाय दिनांक 29/ 04 /2017 को घर से मुसाफिरखाना जा रहा था। गौरीगन्ज मुसाफिरखाना रोड पर गौरीगंज तिराहे के पास तेज रफ्तार से आती हुई ट्रक ने रौंद दिया जिसने प्रदीप और उसका भाई गंभीर रूप से घायल हो गए । सूचना पर पहुंची 100 नंबर पुलिस सेवा के सिपाही पहुंचकर घायल हुए प्रदीप कुमार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुसाफिरखाना में भर्ती कर दिया । घायल की गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने जिला अस्पताल सुल्तानपुर रिफर कर दिया। जहाँ से डॉक्टरों ने उसको ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया।

घायल के परिजनों ने घायल प्रदीप का इलाज फोर्ड अस्पताल लखनऊ में कराना शुरू किया। जिंदगी और मौत के बींच झूझते हुए आख़िरकार प्रदीप जिंदगी की जंग हार गया।जहां पर उसका इलाज डॉक्टरों द्वारा किया जा रहा था इलाज के दौरान उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हो रहा था आखिरकार जिंदगी और मौत के बीच में जारी उस जंग में मौत जीत गई और जिंदगी में 5 मई को अपना दम तोड़ दिया बताते चलें कि प्रदीप कुमार पुत्र रामसहाय सिक्किम प्रदेश में सन फार्मकुटिकॉल कंपनी में सीनियर प्रोडक्शन आफिसर था।

रिपोर्ट- हरि प्रसाद यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here