मानव संसाधन विकास मंत्री ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्‍थान, गोवा परिसर का उद्घाटन किया |

0
508

The Union Minister for Human Resource Development, Shri Prakash Javadekar unveiling the plaque at the inauguration of IIT-Goa, at Farmagudi, Ponda, Goa on July 30, 2016.  The Union Minister for Defence, Shri Manohar Parrikar and the Chief Minister of Goa, Shri Laxmikant Parsekar are also seen.

केन्‍द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने 30 जुलाई, 2016 शनिवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्‍थान, गोवा का उद्घाटन किया। उन्‍होंने आईआईटी गोवा में छात्रों के छात्रावास की भी आधारशिला रखी। नवस्‍थापित आईआईटी गोवा अस्‍थायी तौर पर गोवा इंजीनियरिंग कॉलेज, फार्मागुडी के परिसर से कार्य करेगा और आईआईटी मुंबई द्वारा इसको परामर्श दिया जाएगा।

इस अवसर पर अपने संबोधन में केन्‍द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि आईआईटी की पहचान दुनियाभर में उत्‍कृष्‍टता के प्रमुख अकादमिक संस्‍थानों में होती है। उन्‍होंने कहा कि मंत्रालय आईआईटी की धारणा को बढ़ाने की दिशा में कार्य कर रहा है ताकि विश्‍व रैंकिग में आईआईटी शीर्ष स्‍थान पर पहुँच सकें।

श्री जावड़ेकर ने उन छात्रों को भी शुभकामनाएं दीं जिन्‍होंने आईआईटी को उत्‍कृष्‍ट स्‍तर पर पहँचाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई हैं। उन्‍होंने यह भी उल्‍लेख किया कि किस प्रकार से आर्इआईटी भारत सरकार की उच्‍चतर अविष्‍कार योजना का उपयोग कर सकती है जिसमें उद्योग आईआईटी को विशेष अनुसंधान अनुरोध दे सकते हैं। मंत्री महोदय ने अकादमिक नेटवर्क की वैश्‍विक पहल की भी सराहना की।

इस अवसर पर अपने संबोधन मेंकेंद्रीय रक्षा मंत्री श्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि आईआईटी के छात्रों का गर्मियों का इंटर्नशिप कार्यक्रम विभिन्न रक्षा अनुसंधान प्रतिष्ठानों में आयोजित किया जा सकता है और इससे उनके पाठ्यक्रम की महत्‍ता बढ़ जाएगी। उन्होंने एक कार्यक्रम के बारे में उल्लेख भी किया जिसमें डीआरडीओ के वैज्ञानिक विभिन्न आईआईटी में संकाय सदस्यों के रूप में दौरा करेगें। एनआईटी गोवा के लिए प्रस्तावित परिसर को कनकोलिम में स्थापित किया जाएगा।

Source – PIB

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here