प्रशासन की लापरवाही से सरकार की मंशा हुई तार-तार

0
53

बछरावां/रायबरेली (ब्यूरो)- कागजी खानापूर्ति व अव्यवस्थाओं के बीच ब्लाक परिसर में तीन दिवसीय पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी समारोह एवं मेला आरंभ हुआ। बिना प्रचार-प्रसार के शुरू हुए इस मेले में आधा दर्जन से अधिक प्रमुख-प्रमुख विभाग नहीं आए। कैंप में अधिकारी दिनभर मोबाइल में फेसबुक खेलते रहे और मंच वीरान पड़ा रहा। सरकार की योजनाओं की जानकारी आमजनता तक पहुंचाने के लिए सभी विकासखंडों में पं. दीन दयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी समारोह एवं मेला लगाए जाने की व्यवस्था सरकार ने की है।

इस मेले में सभी विभागों के कैंप लगाकर आम जनता को जानकारी प्रदान करना और जागरुक करना है। सोमवार को ब्लाक प्रांगण में लगाए गए इस मेले का आलम यह रहा कि शाम तक मंच खाली पड़ा रहा। उद्यान विभाग के वरुण कुमार सहित अन्य विभागों के कर्मचारी अपने-अपने मोबाइलों में फेसबुक पर समय व्यतीत करते रहे। आमजनता कैंप के काउंटर पर घंटों खड़ी रहती।

किंतु कर्मचारी उनकी बातों का अनसुना कर फेसबुक और व्हाट्सएप में ही व्यस्त रहे। लापरवाह प्रशासन के कारण इस मेले में समाज कल्याण विभाग, वैकल्पिक ऊर्जा, श्रम विभाग, आपूर्ति विभाग, पशुपालन विभाग, खादी ग्रामोद्योग विभाग, नाबार्ड सहित एक दर्जन से अधिक प्रमुख विभागों के कैंप नहीं लगे। अधिकारियों के लिए दुल्हन की तरह सजाया गया मंच शाम चार बजे तक खाली पड़ा रहा। मंच के नीचे बैठे संगीतकार हरमोनियम और ढोलक बजाते रहे। सहायक लेखाकार अरविंद बाजपेई ने कहा कि बीडीओ की तैनाती नहीं है। विधायक सदन में हैं। डीएम साहब को आना था लेकिन किन्ही कारण वश नहीं आ पाए ।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य /अनूप 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here