अखिलेश सरकार के दावों की पोल खुली, भूख से तड़पकर गरीब की मौत…


FB_IMG_1472306541416प्रतापगढ:
 अपनी सरकार को गरीबों और मजलूमो की सरकार बताकर ना थकने वाले यूपी के सीएम अखिलेश यादव के दावों की सच्चाई सोमवार को उस वक़्त यूपी के प्रतापगढ जिले में तार-तार हो गई। जब गरीब राम सिगांर गौङ की भूख से तड़पकर मौत हो गई।

क्या है मामला….

प्रतापगढ़ के रानीगंज तहसील के शिवगढ़ ब्लॉक में नाजियापुर गाँव में अड़तीस साल के लाचार और गरीब युवक ने भूख से तड़पकर दम तोड़ दिया।  इस गाँव का राम सिंगार गौड़ का मुंबई में तकरीबन पंद्रह साल पहले ट्रेन से गिरकर एक्सीडेंट हुआ तो उसके दोनों पैर टूटकर नाकाम हो गए।  हाथ भी ठीक से काम नही कर रहा था कि वह दो वक्क्त की रोटी के लिए कुछ कर सके। इस गरीब की पत्नी भी इस हालात में छोड़कर चलती बनी और दूसरे के साथ अपनी शादी कर घर बसा लिया।

FB_IMG_1472306556826गाँव वालों के रहम पर दो वक्क्त की रोटी खाकर रामसिंगार का बेटा विनय किसी तरह बड़ा हुआ तो शहर में जाकर सोलह साल का विनय मजदूरी करने लगा।  पापी पेट के लिए हर दिन कमाना और खाना उसका जीवन हो गया।  करीब डेढ़ माह पहले विनय का भी हाथ फ्रैक्चर हो गया तो वह शहर में ही किसी तरह लोगो से भीख मांगकर पेट भरने लगा।  कुदरत का कहर इस गरीब पिता पर इस तरह टूटा तो वह और भी टूट गया।  गाँव के किनारे खुले आसमान के नीचे बारिश में रहता रहा। छत के नाम पर गाँव वालो से मांगकर साड़ी और पॉलीथिन के टुकड़े डंडों में बांधकर लगा दिए गए। शनिवार किब सुबह ग्रामीण जब गाँव के किनारे इस जगह पर घूमते पहुचे तो राम सिंगार मृत मिला।

FB_IMG_1472306554085शव को देखने से लग रहा था कि वह कई दिन से बिस्तर से उठा नही था। शरीर जर्जर हालत में था। शरीर पर पड़े चद्दर में दीमक लिपटा था। बर्तन बारिश के पानी से भरे थे और थाली में कीड़े दौड़ रहे थे। जिससे यह जाहिर था कि पखवारे भर पहले उसने अन्न ग्रहण किया था।

हैरानी की बात यह कि ग्रामीणों की सूचना के बावजूद कोई अफसर मौके पर नही पंहुचा। प्रधानपति और ग्रामीणों का कहना है कि लाचार गरीब को आवास दिलाने और सरकारी सहायता के लिए कई बार जिला मुख्यालय  प्रदर्शन ग्रामीणों ने उसको ले जाकर किया लेकिन आश्वसन की घुट्टी के आलावा कुछ भी नही मिला।

प्रतापगढ – जिला संवाददाता राजाराम वैश्य 

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY