प्रतिबन्धित पेड़ो पर चल रहे हैं आरे

रायबरेली/सलोन (ब्यूरो)- क्षेत्र में प्रतिबंधित हरे पेड़ो की कटान निरन्तर जारी है। प्रदेश सरकार चाहे जितना पौधरोपण करा ले परन्तु क्षेत्र के वन माफिया पुलिस और वन विभाग से सांठ-गांठ कर क्षेत्र की हरियाली को मिटाने पर आमादा है।

कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सभा इटारा निवासी दिलीप सिंह के खेत में दर्जनों सागौन के पेड़ लगे थे।दिलीप सिंह ने वन विभाग से 9 पेड़ काटे जाने का परमिट बनवाकर ठेकेदार पूर्णेद्र प्रताप सिंह उर्फ़ गुड्डू निवासी खम्हरिया पूरे कुशल को सौंप दिया था।जिसके बाद ठेकेदार ने 42 सागौन के पेड़ काट डाले।

मुखबिर की सूचना पर पहुंचे क्षेत्रीय वन रक्षक संजय यादव ने मौके पर मौजूद सागौन के 23 बोटे जब्त कर गांव के ही मोहन लाल यादव के सुपुर्द कर दिया।वन रक्षक संजय यादव ने सलोन कोतवाली में ठेकेदार पूर्णेन्द्र प्रताप सिंह समेत पांच अज्ञात लोगो के विरुद्ध ग्रामीण व्रक्ष संरक्षण अधिनियम धारा 3/28 में मुकदमा दर्ज कराया है।क्षेत्र में हरे पेड़ो की कटान को आखिर कौन रोकेगा।नाम न प्रकाशित करने पर एक ठेकेदार ने बताया कि पेड़ की कटान करने पर वन विभाग और पुलिस दोनों को सुविधा शुल्क देना पड़ता है।जिसके बाद ही कटान की जाती है।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY