अगला प्रवासी भारतीय सम्मेलन नई दिल्ली में 8 से 10 जनवरी, 2016 को आयोजित होगा

0
239

pravasi bhartiya

प्रवासी भारतीय दिवस (पीबीडी) सम्मेलन 2016 नई दिल्ली में 8 से 10 जनवरी, 2016 को आयोजित किया जाएगा। इसका आयोजन स्थल प्रवासी भारतीय केंद्र, जोस रिजल मार्ग, चाणक्यपुरी, नई दिल्ली होगा। इस सम्मेलन की योजना इस उद्देश्य को ध्यान में रखकर बनाई गई है कि अगले दशकों के दौरान भारतीय मूल के लोगों के साथ सम्पर्क को नई दिशा दी जा सके।

पीबीडी सम्मेलन 2016 के उद्घाटन सत्र के बाद एक आम सत्र का आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्रवासी भारतीय कार्य मंत्री, भारत सरकार के केंद्रीय मंत्री और राज्य के मुख्य मंत्री उपस्थित होंगे। उल्लेखनीय है कि 14 कार्य समूहों का गठन किया गया है जिसमें दुनिया भर से 7-8 प्रवासी विशेषज्ञ और 2-3 भारतीय विशेषज्ञ शामिल हैं। ये कार्य समूह आम सत्र में राष्ट्रीय महत्व के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। समिति के अध्यक्ष रिपोर्ट को अंतिम रूप देंगे और उसे अगले दिन सरकार को पेश करेंगे। इसके बाद स्वागत सत्र होगा।

पीबीडी सम्मेलन 2016 में भागीदारी केवल आमंत्रण के जरिये होगी। इसके लिए पूर्व सम्मेलनों की तरह ऑनलाइन पंजीकरण नहीं किया जाएगा। विदेशों में स्थित भारतीय दूतावासों, आदि से आग्रह किया गया है कि वे चिन्हित विषयों पर चर्चा के लिए विदेशों में रहने वाले प्रवासी भारतीयों में से प्रतिष्ठित विशेषज्ञों का चयन कर लें। पूर्व के सम्मेलनों में भारतीय मूल के लोगों के साथ केवल बैठक की जाती थी, लेकिन पीबीडी सम्मेलन 2016 में प्रयास किया गया है कि भारत और भारतीय मूल के लोगों के लिए आपसी हितों को ध्यान में रखते हुए संबंधित मुद्दों पर चर्चा की जा सके। इस बात की आवश्यकता भी महसूस की गई है कि प्रासांगिक विषयों पर विशेषज्ञों की राय ली जाए। इससे भारत और भारतीय मूल के लोगों के हित के लिए नई नीतियां बनाने में मदद मिलेगी। पारंपरिक पीबीडी सम्मेलन सह-भागी राज्य के साथ हर दूसरे वर्ष आयोजित किया जाता है। इस तरह का सम्मेलन 2017 में आयोजित किया जाएगा।

पीबीडी सम्मेलन में ऑनलाइन डायस्पोरा क्विज के विजेताओं का स्वागत किया जाएगा।

ऑनलाइन डायस्पोरा क्विज : भारत को जानिए

पीबीडी 2015 के दौरान माननीय प्रधानमंत्री ने घोषणा की थी कि भारतीय मूल के युवाओं के लाभ के लिए ऑनलाइन डायस्पोरा क्विज का आयोजन किया जाएगा और अगले पीबीडी में विजेताओं को आमंत्रित किया जाएगा।

इस ऑनलाइन डायस्पोरा क्विज में केवल 18 से 35 वर्ष के बीच के प्रवासी भारतीय और भारत वंशी पुरस्कार के योग्य माने जाएंगे। प्रतियोगिता के अंतिम दौर के लिए 20 युवाओं को चुना जाएगा, जिनमें 10 प्रवासी भारतीय और 10 भारत वंशी होंगे। अंतिम दौर के क्विज के लिए इन्हें दिल्ली आमंत्रित किया जाएगा, जहां दोनों वर्गों से तीन- तीन विजेताओं का चयन होगा। पीबीडी सम्मेलन 2016 में इनका स्वागत किया जाएगा। इसके अलावा ऑनलाइन डायस्पोरा क्विज के 20 अंतिम प्रतियोगियों को अन्य पुरस्कार प्रदान किये जाएंगे, जिनमें सराहना प्रमाणपत्र और स्मारिकाएं शामिल हैं। इस वर्ग के लिए अलग से ‘भारत को जानिये’ कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा ताकि उन्हें देश को देखने का अवसर मिले।

यह क्विज 12 नवम्बर, 2015 से ऑनलाइन उपलब्ध हो जाएगा। सोशलमीडिया अभियान 7 अक्टूबर, 2015 से शुरू होगा।

क्षेत्रीय भारतीय प्रवासी दिवस लॉस एंजेलेस

 

भारत सरकार अमेरिका के केलीफोर्निया के लॉस एंजेलेस में नवें क्षेत्रीय भारतीय प्रवासी दिवस (आरपीबीडी) का आयोजन करेगा। यह आयोजन 14 और 15 नवम्बर, 2015 को किया जाएगा। इसकी घोषणा पहले ही प्रेस विज्ञप्ति में कर दी गई है।

आरपीबीडी का आयोजन सेन फ्रांसिस्को स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास और वाशिंगटन डीसी स्थित भारतीय दूतावास द्वारा किया जाएगा। इस आयोजन में अमेरिका के भारत वंशी संगठनों तथा प्रवासी भारतीय कार्य मंत्रालय का सहयोग लिया जा रहा है। आरपीबीडी में भारत- अमेरिका सहयोग संबंधी विभिन्न आधिकारिक मंच भी हिस्सा लेंगे।

आरपीबीडी लॉस एंजेलेस किसी एक देश में रहने वाली प्रवासी भारतीयों की सबसे अधिक आबादी की उपस्थिति को दर्शाता है और भारत, अमेरिका तथा भारतीय मूल के लोगों के बीच सामाजित, आर्थिक एवं राजनैतिक संबंधों को मजबूत करता है।

भारत और अमेरिका अपनी- अपनी अर्थव्यवस्थाओं के लगभग सभी महत्वपूर्ण क्षेत्रों में विकसित होने वाली साझेदारी को रेखांकित करते हैं। भारतीय अमेरिकियों ने सूचना प्रौद्योगिकी, चिकित्सा, अकादमी, बैंकिंग, सत्कार, विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अमिट छाप छोड़ी है। भारतीय अमेरिकियों ने व्यापार के क्षेत्र में भी अभूतपूर्व प्रगति की है। आरपीबीडी लॉस एंजेलेस संगोष्ठियों और चर्चाओं के जरिये दोनों पक्षों के प्रमुख हितधारकों के सहयोग से इन संबंधों को मजबूत करने के लिए प्रयास करेगा।

14 नवम्बर को आरपीबीडी आयोजन के दौरान प्रवासी भारतीय स्वागत केंद्र व्यापार सम्मेलन का आयोजन भी करेगा। प्रवासी भारतीय कार्य मंत्रालय और प्रवासी भारतीय स्वागत केंद्र के अधिकारी अमेरिका के सक्षम निदेशकों के साथ चर्चा करेंगे और निवेश के लिए उनका मार्ग दर्शन करेंगे।

आरपीबीडी सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन करेगा जिसमें बॉलीवुड और हॉलीवुड सहित महत्वपूर्ण मीडिया, सांस्कृतिक और मनोरंजन के क्षेत्र शामिल हैं।

हम आशा करते हैं कि आरपीबीडी लॉस एंजेलेस विश्व भर में मौजूद भारतीय मूल के लोगों के साथ कामयाब साझेदारी के मार्ग में मील का पत्थर साबित होगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

four × 1 =