भगवान की शरण में पहुँचकर दरवार लगाकर पानी बरसाने की कर रहे है प्रार्थना

मऊरानीपुर/झाँसी (ब्यूरो)- जहाँ आधे भारत मे जल तबाही मची हुयी है। वहीं बुन्देलखण्ड मे मौसमी बर्षा बहुत कम होने से किसानो द्वारा बोयी गयी फसल खेतो मे ही दफन होती जा रही है। जिसके चलते जगह जगह किसान भगवान की शरण मे पहुँचकर दरवार लगाकर पानी बरसाने की प्रार्थना कर रहे है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र. के अन्तर्गत आने वाले भण्डरा, पठा, भदरवारा, चुरारा, आदि न्याय पंचायत के राजस्व ग्रामो के किसानो ने आद्रा नक्षत्र मे मूंगफली, उर्द, मूंग, तिल, आदि खरीफ की फसल कम पानी बरसने के बाद भी खेतो मे बो दी। लेकिन 3 दर्जन से अधिक ग्रामो मे बरसात कम होेने से बोया गया। मॅूगफली का बीज काला पडने के साथ चीटियो ंका निवाला बन रहा है। वहीं उर्द ,मूॅग, तिली को खेतो मे अंकुरित नही हुयी हेै। और जो फसल उग आयी है। वह पानी न बरसने के अभाव मे सूखने की कगार पर है।

ग्राम खिलारा निवासी किसान लक्ष्मन प्रसाद दुवे ने बताया कि बहुत कम पानी बरसने के बाद भी किसानो ने जोखिम उठाते हुए खेतो मे फसल बो दी है। लेकिन समय पर मौसमी बर्षा नही होने से फसल नही उग रही है। साथ मे आवारा पशु खेतो को रौद रहे है। जिससे अंकुरित बीज ख्ेातो मे नष्ट हो रहा है। जिसके चलते ग्रामीणो द्वारा सिद्धेश्वर मन्दिर पर दरवार लगाकर पानी बरसाने की प्रार्थना की जा रही है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY