बिहार बोर्ड के छात्रो की प्रतिक्षा हुई समाप्त बोर्ड ने दसवीं के नतीजे किया जारी, 93 फीसदी अंक के साथ प्रेम स्टेट टॉपर

0
60


बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मैट्रिक (दसवीं) के नतीजे जारी कर दिये हैं, दसवीं के नतीजों में इस बार लगभग सत्रह लाख चालीस हजार परीक्षार्थी शामिल हुए थे| नतीजे बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर और शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आर के महाजन ने जारी किया |

परीक्षा में को टॉपर बनने का गौरव प्रेम कुमार को प्राप्त हुआ है, उन्हें 465 अंक मिले हैं जो कुल अंको का 93 फीसदी है | दूसरे स्थान पर सिमुलतला स्कूल की छात्रा भव्या कुमारी रही हैं, उन्हें करीब 91 फीसदी मार्क्स मिले हैं |

इससे पहले बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने मैट्रिक के नतीजे जारी किये, नतीजों की बात करें तो बिहार में इस बार 51.30 प्रतिशत बच्चे मैट्रिक की परीक्षा में पास हुए हैं. बिहार बोर्ड की परीक्षा में इस बार करीब 15 लाख परीक्षार्थी शामिल हुए थे | बिहार बोर्ड के इतिहास में पहली बार 10वीं के टॉपर स्टूडेंट्स का भौतिक सत्यापन भी कराया गया है |

दरअसल, इंटर की परीक्षा के नतीजों के बाद हुई किचकिच से बोर्ड किसी भी तरह का जोखिम उठाना नहीं चाह रहा था. इस वजह से बोर्ड ने पहले ही 10वीं के टॉपर्स का फिजिकल वेरीफिकेशन करा लिया |

रिजल्ट पहले 20 तारीख को ही आने थे लेकिन टॉप-10 सहित कुछ छात्र फिजिकल वेरिफिकेशन के लिए बोर्ड के अधिकारियों के सामने पेश नहीं हो सके. बोर्ड के नतीजे आधिकारिक वेबसाइट biharboard.ac.in पर देखे जा सकेंगे | बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (बीएसईबी) की दसवीं की परीक्षा एक मार्च से शुरू हुई थी और 8 मार्च को खत्म हुई थी |

इससे पहले, बिहार बोर्ड ने 30 मई को 12वीं कक्षा के रिजल्ट घोषित किए थे जिसमें 35 फीसदी स्टूडेंट्स ही पास हुए थे. इंटर साइंस में सिर्फ 30.11, आर्ट्स में 37.13 और कॉमर्स में 73.76 स्टूडेंट्स पास हुए थे |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY