प्रियंका रही मौन, स्थानीय नेताओं के बयानों में भिन्नता

0
90

रायबरेली। मंच पर साथ लेकिन विचारों में भिन्नता, गठबंधन की अपरिपक्वता दर्शा रही थी। कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ने जहां सिर्फ कांग्रेस की बात उठाई वहीं सपा जिलाध्यक्ष गठबंधन पर बोले। मंच पर प्रियंका का मौन भी लोगो को अखर गया है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की चुनावी सभा के बावजूद मंच पर सपा कांग्रेस गठबंधन की मजबूरी ही झलकती नजर आयी। कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के नेता भी मंच पर भी खिचें-खिचें से रहे। दोनो ने अपने संबोधन में अलग-अलग बात कही। कांग्रेस जिलाध्यक्ष वीके शुक्ला ने जहां नारा दिया कि यूपी को यह साथ पसंद है, रायबरेली को बस हाथ पसंद है। वहीं सपा जिलाध्यक्ष रामबहादुर यादव ने अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाने के लिये गठबंधन को जिताने की अपील की। जिले में किसी चुनावी मंच पर ऐसा पहली बार हुआ है जब कांग्रेस के स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी मौजूद रही हो और उन्हें बोलने का अवसर न दिया गया हो। चुनावी सभा में उनके इस मौन पर लोगो ने कई तरह के कयास भी लगाये।

रिपोर्ट – राजेश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here