प्रो . श्याम नारायण चौधरी, शोक में डूबा मानवाधिकार जगत

0
95

हाजीपुर/वैशाली (ब्यूरो)- मानवाधिकार संरक्षण प्रतिष्ठान के राष्ट्रीय महासचिव सह वैशाली जिला अध्यक्ष प्रो . श्याम नारायण चौधरी की अकास्मिक निधन पूरे जिले के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को शोक के समुद्र में डुबो दिया |

आपको बता दें कि आज तड़के दोपहर बाद प्रो . श्याम नारायण चौधरी जिले के सिरमौर विद्यालय आर .एन कालेज के दर्शनशास्त्र के प्रोफ़ेसर के पद से अवकाश ग्रहण करने के बाद अपने आप को समाज में व्याप्त कुरीतियों के खिलाफ़ आवाज उठाते रहे |

मानव के अधिकार का कहीं हनन न हो इसका वे पूरा ख्याल रखते हुए अपने जीवन की अंतिम सांस ली | प्रोफ़ेसर चौधरी के नेतृत्व में हाजी पुर में चार बार राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन हो चुका है पून: इस वर्ष सम्मेलन की तैयारी चल रही थी| इन के निधन ने पूरे जिले सामाजिक, राजनीतिक, शिक्षाविद को झकझोर कर रख दिया |

इन के जाने से जो अपुर्णनीय छति हुई है निकट भविष्य में इसकी पूर्ति कर पाना असंभव प्रतीत हो रहा है| इनके निधन पर शोक प्रकट करने वालों में नसीम रब्बानी, सुधीर मालाकार, डा.आलोक कुमार , डा.संजय कुमार, डा.पारस नाथ सिंह, प्रमोद राय, बागीश मिश्र, नरेश दीपक, राम एकवाल सिंह, डा. फरीद आलम, अनील झा .रेणु देवी, सिन्धू गिरी, सुरेश राय, अशोक पटेल, डा. इन्तखाब आलम, मो. एजाज आदिल, नेयाज अहमद, शशि झा, मो.शमीम रब्बानी, संजय गिरी आदि प्रमुख थे |

रिपोर्ट – नसीम रब्बानी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY