विधायक मनोज पाण्डे सहित कई लोगों के विरूद्ध 156(3) की कार्यवाही

0
1140

रायबरेली(ब्यूरो)- इटौरा बुजुर्ग की ग्राम प्रधान रामश्री ने 26 जून की घटना की प्रथम सूचना रिपोर्ट हेतु उ0प्र0 सरकार से निराश होकर अदालत का दरवाजा खटखटाया।  रामश्री के 156(3) जा0फौ0 के प्रार्थना-पत्र को ए0सी0जे0एम0 कोर्ट नं0-11 श्रीमती लबी यादव ने प्रकीर्ण वाद संख्या-293/17 पर दर्ज कर लिया है।  अगली सुनवाई हेतु 24 जुलाई 2017 तारीख नियत की है।रायबरेली। इटौरा बुजुर्ग की ग्राम प्रधान रामश्री ने 26 जून की घटना की प्रथम सूचना रिपोर्ट हेतु उ0प्र0 सरकार से निराश होकर अदालत का दरवाजा खटखटाया।  रामश्री के 156(3) जा0फौ0 के प्रार्थना-पत्र को ए0सी0जे0एम0 कोर्ट नं0-11 श्रीमती लबी यादव ने प्रकीर्ण वाद संख्या-293/17 पर दर्ज कर लिया है।  अगली सुनवाई हेतु 24 जुलाई 2017 तारीख नियत की है।

अदालत में दाखिल किए गए प्रार्थना-पत्र में लिखागया है कि प्रार्थिनी श्रीमती रामश्री यादव पत्नी स्व0 सन्तपाल यादव निवासिनी ग्राम अपटा, मजरे इटौरा बुजुर्ग, थाना ऊँचाहार, जिला रायबरेली की निवासी व ग्राम सभा इटौरा बुजुर्ग की वर्तमान ग्राम प्रधान है, प्रार्थिनी की ग्राम सभा के अन्तर्गत पूरे भुसई पाण्डे, मजरे इटौरा बुजुर्ग, थाना ऊँचाहार में रोहित शुक्ला पुत्र गिरिजा शंकर शुक्ला मूल निवासी देवारा, थाना संग्रामगढ़, जिला प्रतापगढ़ एक अपना मकान निर्मित करा रहा था, जिसमें ग्राम सभा की भूमि से नाजायज मिट्टी की खुदाई किया और प्रार्थिनी के ऊपर तालाब की खुदाई दिखाकर पंचायत निधि से फर्जी मु0 3,00,000/- (रूपये तीन लाख) का भुगतान सरहंगी व रंगदारी के रूप में करने हेतु कई दिनों से धमका रहे थे, उनके साथ मनीष मिश्रा पुत्र ओम प्रकाश मिश्रा उर्फ धर्मेश निवासी सलारपुर, थाना ऊँचाहार, जिला रायबरेली भी रंगदारी के रूप में मु0 50,000/- (रूपये पचास हजार) की माँग प्रार्थिनी व उसके पुत्र राजा उर्फ विजय बहादुर यादव को जान से मारने की धमकी देकर कर रहे थे, जिसके सम्बन्ध में प्रार्थिनी ने दिनाँक 19-06-2017 को प्रार्थना-पत्र पुलिस व प्रशासन के तमाम उच्चाधिकारियों को दिया था, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई|

इसी अनुक्रम में पुनः दिनाँक 26-06-2017 रात लगभग 8ः30 बजे रोहित शुक्ला व मनीष मिश्रा उपरोक्त अपने साथ 6 – 7 अन्य अज्ञात व्यक्तियों के साथ सफारी गाड़ी से बन्दूक व पिस्तौले लेकर प्रार्थिनी के दरवाजे पर आये और माँ-बहन की गन्दी-गन्दी गालियाँ व जान से मार डालने की धमकी देते हुए प्रार्थिनी से रंगदारी के रूप में 3,50,000/- रूपये का भुगतान देने हेतु कहा, प्रार्थिनी व उसके पुत्र राजा यादव के विरोध करने पर रोहित शुक्ला व मनीष मिश्रा तथा उनके अन्य साथियों ने प्रार्थिनी व उसके पुत्र राजा पर जान से मारने की नियत से ताबड़तोड़ अपने-अपने असलहों से फायर करने लगे प्रार्थिनी व उसका पुत्र राजा किसी तरह जान बचाकर घर के अन्दर घुसकर दरवाजा बन्द कर लिया| तब सभी हमलवार फायर करते हुए दरवाजा तोड़ने व घर के अन्दर घुसने का प्रयास करने लगे, हम लोगों ने बचाव के लिए चिल्लाते हुए अपनी छत से हमलावरों पर ईट-पत्थर फेंकना शुरू किया, इसी बीच तमाम पास-पड़ोस के लोगों व गाँव वालों ने भी हमलावरों पर बचाव के लिए पथराव किया, जिसके कारण सभी हमलावर सफारी गाड़ी पर सवार होकर प्रार्थिनी के दरवाजे से भागे और कुछ दूरी पर गाँव के बाहर विद्युत पोल से टकराकर सफारी गाड़ी पलटने व आग लगने के कारण उपरोक्त हमलावरों में कुछ लोगों की दुर्घटनावश मृत्यु हो गई, बाकी हमलावर भाग गये, घटना की सूचना प्रार्थिनी के पुत्र द्वारा उसी समय पुलिस को 100 नम्बर पर मोबाइल से दी गई तथा लिखित प्रार्थना-पत्र भी थाना ऊँचाहार में दिया गया, लेकिन प्रार्थिनी की रिपोर्ट नहीं लिखी गई, रोहित शुक्ला व मनीष मिश्रा स्थानीय विधायक मनोज पाण्डेय के करीबी व खास व्यक्ति तथा चर्चित अपराधी व सरहंग हैं|

उक्त घटना विधायक मनोज पाण्डेय के षड़यन्त्र व समर्थन से घटित हुई, जिसमें उनका पूरा सहयोग व समर्थन है।  मनोज पाण्डेय के प्रभाव व दबाव के कारण प्रार्थिनी की रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई, बल्कि घटना की पेशबन्दी में दूसरा स्वरूप प्रदर्शित करते हुए प्रार्थिनी के तीन पुत्रों राजा, कृष्ण कुमार व प्रदीप को झूठे व बनावटी घटनाक्रम पर आधारित मुकदमें में फँसा दिया गया है।  प्रार्थिनी व उसके परिवार को निरन्तर जान-माल का भय बना हुआ है।  प्रार्थिनी ने दिनांक 01-07-2017 को पुलिस अधीक्षक रायबरेली एवं अन्य उच्चाधिकारियों को प्रार्थना-पत्र दिया परन्तु अभी तक रिपोर्ट अंकित नहीं की गई।

रामश्री की तरफ से पूर्व डी0जी0सी0 ओ0पी0 यादव एडवोकेट, वरिष्ठ अधिवक्ता भाई लाल यादव, राघवेन्द्र प्रताप सिंह एडवोकेट, पूर्व महामन्त्री सेन्ट्रल बार एसोसिएशन सुरेश चन्द्र यादव एडवोकेट एवं जयसिंह यादव एडवोकेट ने न्यायालय में पैरवी की।

रिपोर्ट- राहुल यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY