भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मा‌र्क्सवादी) के पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट में दिया धरना

0
80


सोनभद्र(ब्यूरो) दलितों ,गरीबों व किसानों को उनकी जमीनों से बेदखल करने को लेकर सोमवार को भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मा‌र्क्सवादी) के पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट में धरना दिया। इसके साथ ही इस संबंध में पदाधिकारियों ने जिलाधिकारी को सात सूत्रीय मांग पत्र भी सौंपा।

धरना के दौरान पार्टी के जिलामंत्री धर्मनाथ ¨सह ने बताया कि म्योरपुर विकास खंड के गांव परासी, अनपरा, गरबंधा, बिछरी व औड़ी के मूल निवासी अनुसूचित जाति व जनजाति सहित किसानों व काश्तकारों को उनकी जमीनों से बेदखल किया जा रहा है। इसमें ठेकेदार, दलाल, गुंडा प्रवृत्ति के व्यापारी व भू-माफिया लगे हुए हैं। ये सभी मिलकर तहसील प्रशासन, स्थानीय थाना से मिलकर ऐसे कामों को अंजाम दे रहे हैं। इस दौरान दुद्धी के उपजिलाधिकारी पर भी कई आरोप लगाए गए। श्री ¨सह ने कहा कि खासतौर पर दुद्धी क्षेत्र में स्थित ये गांव एनसीएल, रेनुसागर पावर व अनपरा तापीय परियोजना से प्रभावित हैं, इससे क्षेत्र के सभी छोटे-बड़े किसान प्रभावित हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की जमीनों व हड़प नीति के खिलाफ कई बार उच्चाधिकारियों से पत्राचार किया गया। यहां तक कि मुख्यमंत्री के जनता दरबार में भी ये बात पहुंचाई गई लेकिन अब तक किसी प्रकार से किसानों के हित में कार्य नहीं किया गया। प्रशासन से मांग करते हुए उन्होंने कहा कि पीड़ित किसानों को न्याय दिया जाय। फर्जी बैनामा करने वाले भू-माफिया को चिह्नित किया जाय। इसके साथ ही उपजिलाधिकारी दुद्धी के खिलाफ कार्रवाई सहित डाकखानों की घोर लापरवाही के विरुद्ध जांच कर कार्रवाई की मांग की। धरने के दौरान अवधराज ¨सह, प्रेमनाथ, नंदलाल आर्या, नर्वदेश्वर पांडेय, शिवकुमार उपाध्याय, कंचन ¨सह, नीलम, शर्मिला श्रीवास्तव, दुबराजी देवी, जगनारायण, राजेश कुमार, अशोक कुमार, जागेश कुमार, अमरेश कुमार व भोला सहित अन्य लोग मौजूद थे।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY