अधिकारियों की मनमानी से जनता में आक्रोश

0
76

सहार/औरैया(ब्युरो)- क्षेत्र मे विघुत व्यवस्था का बुरा हाल है जहा एक ओर सरकार विघुत व्यवस्था सही करने की बात कह रही है वहीं सहार मे विघुत व्यवस्था पहले से खराब हो गई है, जबकि सहार मे बीस घंटे लाइट की समयावधि है, हालाँकि लाइट आती समय से है और जाती भी समय से ही है, परन्तु बीच मे बहुत ज्यादा कटौती होती है, जिससे लोगो को भारी परेशानी होती है।

अघोषित बिजली कटौती का आलम यह है कि सुबह जैसे ही बच्चो को स्कूल भेजने का समय हुआ।लाइट की आंख मिचौली शुरू हो जाती है। जे ई विद्युत से बात करने का प्रयास किया जाता है। पहले तो कई बार वेल जाने पर फोन उठता ही नही और उठ जाए तो फोन काट दिया जाता है।

उनका कहना है कि सहार कस्बे में बिजली चोरी बहुत होती है। जबकि खुद उनके ही विभाग के कर्मचारी धन उगाही कर चोरी करवाते हैं। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि से इसी बात को लेकर विगत समय कहा सुनी भी हो चुकी है।जिसमे विभाग के द्वारा कुछ लोगो पर कार्यवाही भी करवाने का प्रयास किया गया। उसी खुन्नस को भुनाते हुए।कस्बावासियों को बिजली के लिए तरसाया जा रहा है।एक्स ई एन से बात की जाती है तो बताया जाता है कि ऊपर से नही आ रही|

अब ऐसे मे यहा की बेबस जनता लाइट कनेक्शन होने के बाद भी गर्मी मे रहने पर मजबूर हो जाती है ।
बच्चों और बुजुर्गों को बढ़ती हुई गर्मी से भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। कस्बा वासियो ने डी एम से गुजारिश की है कि समस्या को जल्द निपटाया जाय। या फिर कस्बा वासी क्रमिक अनशन को मजबूर होंगे।

इस मौके पर मनीष यादव,रोहित यादव ,रजत तिवारी,राजू सविता,लालाराम वर्मा,प्रमोद यादव,मोहित अग्नि होत्री,मदन राजपूत,नरेंद्र यादव,सुरेश सक्सेना आदि लोगो ने मौजूद रह कर अपनी समस्या से समबाददाता को अवगत कराया।

रिपोर्ट-मनोज कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY