जनता सुशील पासी जैसा विधायक चाहती है

0
430

photo 01
बछरावा, रायबरेली। विधानसभा में चुनाव की रणभेरी बज चुकी है। विभिन्न दलों के प्रत्याशियों ने मतदाताओं के दर पर माथा टेकना शुरू कर दिया है। बछरावां विधानसभा 177 से अपना दल, पीस पार्टी, निसाद पार्टी, सबका दल तथा जन अधिकार मंच समर्थित उम्मीदवार सुशील पासी द्वारा आज कस्बे के दयानन्द बछरावां पी0जी0 कालेज के प्रांगण में विशाल रैली आयोजित की गई।

रैली में मुख्य अथिति अपना दल की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पल्लवी पटेल थी। रैली में पीस पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष अब्दुल मन्नान भी मौजूद थे। रैली को सम्बोधित करती हुई। पटेल ने कहा कि प्रदेश में कुर्मी समाज तथा पासी समाज की संख्या का किसी भी दल की सरकार बनाने या बिगाड़ने में महत्वपूर्ण योगदान होता है। लेकिन विभिन्न दलों के नेताओं ने इन दोनों समाज को कभी भी तवज्जो नहीं दी। लेकिन कुर्मी समाज तथा पासी समाज ने अपने दम पर अपनी पहचान बनाई। 2014 लोक सभा के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने मन्चो से बडे़-बड़े भाषण दिये कि अगर हमारी सरकार बनती है तो किसानों तथा दलितो का सर्वागीण विकास किया जायेगा। मैं आप लोगों से पूछना चाहती हूँ कि कितना विकास किसानों का हुआ तथा कितना विकास दलितों का हुआ। आप सब लोगों से मेरा निवेदन है कि बछरावां विधान सभा क्षेत्र में कुर्मी तथा पासी समाज की इतनी संख्या है कि हम अपना विधायक बना सकते है। रैली को सम्बोधित करते हुये सुशील पासी ने कहा कि मैंने अपने जीवन के 20 साल बछरावां क्षेत्र की जनता के विकास के लिये बिना किसी पद पर पहुँचे दिया। राजनीति व संघर्ष के लिये मैंने सरकारी नौकरी छोड़ कर जनता की सेवा में लगा हुआ हूँ। भाइयों मैं आप लोगों से अपील करता हूँ कि मैंने किसी दल से न लड़ते हुये भी भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस जैसी राष्ट्रीय पार्टियों को विगत विधान सभा चुनाव में धूल चटा दी थी। बहुजन समाज पार्टी, पीस पार्टी के उम्मीदवार आस-पास नहीं फटके थे। साथियों सपा विधायक के कार्यकाल में जितनी सड़कों का निर्माण हुआ। उनका ठेका सपाइयों को दिया गया क्षेत्र में कुछ तो सड़के ऐसी हैं जो 5 साल में 2-2 बार बनी है। उन्होनें कहा कि आप को विधायक ऐसा चाहिए जो सबका साथ सबका विकास करे न कि कुछ का साथ कुछ का विकास करे। एक बार आप लोग हमें मौका दे कर देखें आपको भय मुक्त समाज मिलेगा। हमारा कोई कार्यकर्ता थाने में झोला लेकर नहीं बैठेगा। किसानों को अपने पैसों से नहर नहीं साफ करनी पड़ेगी।

सूखा राहत का पैसा सभी को मिलेगा। सुशील पासी ने कभी जाति व धर्म की राजनीति नहीं की है। सिर्फ मानवतावाद के रास्ते पर चला। पिछले चुनाव में भी मुझे हर जाति व हर वर्ग के लोगों ने वोट व अर्शिवाद दिया। इस बार भी हर वर्ग और हर जाति के लोगों के आशीर्वाद से चुनाव मैदान में हूँ और भरपूर समर्थन व सहयोग दे रहे है। कुछ लोग निजी स्वार्थ के लिए झूठी अफवाहे पेस करेगें। इनको आपको नजरअन्दाज करना है। जनता इस बार सुशील पासी को जिताने का पूरी तरह मन बना चुकी है। कुछ लोग विकास की गंगा बहाने की बात करेगें। दुनिया का कोई भी राजनेता सड़क, बिजली, पुल अपनी जेब से नहीं बनाता। उसके कार्यकाल में जो सड़के बनी वह 10 साल सहीं रही या 10 महिने में उखड़ गई। यह उसके कार्यकाल की कसौटी रहती है। जनता में अमन चैन रहा कि नहीं। दलाली व भ्रष्टाचार कितना हावी रही है। विधायक कुछ मुट्ठीभर लोगों के लिए बना या फिर आम जनता के लिए बना यह सोचने की बात है। मैंने बिना किसी पद पर पहुँचे क्षेत्र में इण्टर कालेज, अम्बेडकर महिला डिग्री कालेज की स्थापना की। नौजवानों को खेलने हेतु स्टेडियम बनवाये और सबसे बड़ी बात मैंने अपने परिवार के किसी भी सदस्य को राजनीति में आगे नहीं बढ़ाया बल्कि नौजवानों को राजनीति में आगे बढ़ाया। उन्हे जिला पंचायत सदस्य, प्रधान, बी0डी0सी0 बनने का मौका दिया। विगत विधानसभा चुनाव में जो नंबर एक पर था वह आज भी नंबर एक पर है। फर्क इतना है कि पिछले चुनाव में वह नंबर एक पर था और वह 2017 के चुनाव में वह नीचे से नंबर एक पर रहेगा। आज आप लोग जो यह जनसैलाब देख रहे हैं। मैंने किसी प्रधान या अन्य को डरा धमकाकर चार-चार ट्रैक्टर लाने को मजबूर नहीं किया। रैली में जो भी मातायें बहनें, बुर्जुग तथा नौजवान आये हैं। वह सुशील पासी को अपना आशीर्वाद देकर विधायक बनाने आये हैं। आज की भीड़ को देखकर लगता है कि जनता सुशील पासी जैसा विधायक चाहती है। रैली में सुरेन्द्र बहादुर सिंह, प्रबोध चौधरी , महेश चौधरी , बिरेन्द्र चौधरी , विजय चौधरी (शेरा गुरूजी), नीरज साहू, संजीव शुक्ला, देशराज यादव, अमित सिंह, आशाराम वर्मा, राजन गुप्ता, राजेश लोधी, रामलखन यादव, महादेव यादव, रामआसरे यादव सहित हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे।
रिपोर्ट – राजेश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY