मजदूर संघों की हड़ताल से जनजीवन पर कोई असर नहीं

0
199

strike

देशभर से प्राप्त सूचना के अनुसार केन्द्रीय व्यापार संघों द्वारा बुलाई गई हड़ताल का देश के अधिकतर हिस्सों में खास असर नहीं पड़ा है। देशभर में अधिकतर स्थानों पर स्थिति शांत और सामान्य रही। अधिकतर कर्मचारी अपने कार्यालय गए। रेल, बस, ऑटोरिक्शा और लारियों का आवागमन हमेशा की तरह ही रहा। बैंकों, कोयला, प्रमुख बंदरगाहों और रक्षा उत्पादन इकाईयों में इसका थोड़ा बहुत असर देखने को मिला। आवश्यक सेवाएं करीब-करीब सामान्य रहीं।

प्रधानमंत्री द्वारा गठित अंतर मंत्रालय समिति ने केन्द्रीय व्यापार संघों के प्रतिनिधियों के साथ उनकी मांगों पर विचार-विमर्श के लिए कई दौर के बैठकें की। सरकार ने कामगारों के कल्याण को सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्धता जताई है और उनकी मांगों को लेकर सरकार बिना किसी दबाव के सकारात्मक है। कुल बारह केन्द्रीय व्यापार संघों में से दो ने इस हड़ताल में भाग नहीं लिया। तीन संघ तटस्थ रहें, जबकि सात ने हड़ताल में भाग लिया। इससे पता चलता है कि कामगार अपनी मांगे बातचीत और विचार-विमर्श के जरिए पूरी करवाना चाहते है।

कामगार, सरकार के साथ समझौते की दिशा में काम रहे हैं और चाहते है कि उनकी कुल बारह में से नौ मांगे पूरी करने के लिए सरकार उनकी आकांक्षा के अनुरूप सकारात्मक कदम उठाए।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

seventeen − 14 =