कंडोम के साइडइफेक्ट से अगर हैं अंजान तो ध्यान से पढ़ें इस पोस्ट को

0
5656

condomकंडोम क्या हैं और इसके क्या लाभ होते हैं, हमारे दैनिक जीवन में इसका क्या प्रयोग हैं इस बात की जानकारी तो हर किसी को होती हैं लेकिन इसी कंडोम के साइडइफेक्ट क्या-क्या होते हैं इस बात की जानकारी बहुत कम लोगों के पास ही होती है I कभी –कभी कंडोम के अधिक इस्तेमाल के कारण आप को यौन सम्बंधित किसी प्रकार के संक्रमण का भी सामना करना पड़ सकता है I आइये आज यहाँ पर हम चर्चा कर रहे हैं कंडोम से होने वाले साइडइफेक्ट के बारे में –

कंडोम के इस्तेमाल पर होने वाली रिसर्च से पता चला हैं कि कंडोम के अधिक उपयोग यानि की एक सप्ताह में दो या फिर उससे अधिक बार प्रयोग करने वाली महिलाओं की योनि की आन्तरिक परत और झिल्ली में संवेदनशीलता या तो कम हो जाती हैं या फिर बिलकुल ही समाप्त हो जाती है I और यही कारण है कि महिलाओं की योनि से स्खलित होने वाले प्राकृतिक पदार्थ का स्वतः से स्खलन कम हो जाता है या फिर यह पूरी ही तरह से बंद हो जाता है जिसके कारण से महिलाओं कि योनि में सूखापन आ जाता है I

और यही कारण है कि कंडोम का अधिक इस्तेमाल करने वाली महिलाओं की योनि छूने मात्र से ही दर्द का अनुभव करती है I

 

योनि का छिलना –

कंडोम का अधिक उपयोग करने वाली महिलाओं की योनि के भीतर का भाग कट और छिल भी जाता है ऐसा कई एक रिसर्च में साबित हो चुका है I और ऐसा होने के बाद योनि मे सूजन आ जाती हैं जिसके कारण योनि का आंतरिक हिस्सा घायल हो जाता है और जिसके कारण अन्दर घाव जैसी स्थित भी जन्म ले लेती है I कभी-कभी यह घाव इतने बड़े हो जाते है कि सेक्स के दौरान या फिर सेक्स करने के बाद इनमें से रक्त श्राव होने लगता है जिसे अक्सर महिलायें लापरवाही के चलते परवाह नहीं करती है लेकिन इन्ही कारणों के चलते महिलाओं के गर्भाशय में भी संक्रमण का खतरा भी बढ़ जाता है I

लेटेक्स से बने कंडोम – लेटेक्स से बने कंडोम महिलाओं को गर्भधारण और यौन से सम्बंधित होने वाले रोंगों से बचाते जरूर है लेकिन महिलाओं के भीतर अलर्जी का भी यह प्रमुख कारण है I और कंडोम के अधिक प्रयोग के कारण ही महिलाओं के भीतर सेक्स के प्रति रुझान धीरे-धीरे करके समाप्त हो जाता है क्योंकि इसके अधिक प्रयोग से योनि में सूखापन आ जाता है I

योनि रक्षक तंत्र को भी नुकसान पहुचाता है कंडोम

संभोग के दौरान अधिकतर कंडोम का प्रयोग करने वाली महिलाओं की योनि को जो प्रकृति के द्वारा प्रतिरक्षा कवच प्रदान किया गया होता है वह नष्ट हो जाता है I जिसके कारण महिलाओं को यौन सम्बंधित बिमारियों का भी सामना करना पड़ सकता है I

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY