राजन के कार्यकाल का विस्तार होना चाहिए, वह पूर्णतया इसके योग्य : अर्थशास्त्री

0
335

raghuram rajan with pm modi

भारतीय रिज़र्व बैंक के वर्तमान चेयरमैन रघुराम राजन को 4 सितम्बर 2013 को तीन वर्षों के लिए रिज़र्व बैंक के चेयरमैन पद पर नियुक्त किया गया था, जोकि इस वर्ष सितम्बर में समाप्त हो रहा है | भारतीय रिज़र्व बैंक के चेयरमैन राजन पिछले कुछ समय से भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुब्रमन्यम स्वामी के निशाने पर हैं | उनके अनुसार राजन देश में ब्याज दरों में कमी और आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देने में नाकाम रहे हैं | उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राजन अमेरिकी मल्टीनेशनल्स के इशारे पर काम कर रहे हैं और भारत के माध्यम उद्योगों को ख़त्म कर देना चाहते हैं |

राजन का समर्थन करते हुए अमेरिका के प्रिंस्टन विश्वविद्यालय में अमेरिकी मूल के अर्थशास्त्री avinash दीक्षित ने कहा कि मुझे निश्चित तौर पर लगता है कि राजन के कार्यकाल का विस्तार होना चाहिए वह पूर्णतया इसके योग्य हैं |

कई अन्य अर्थशास्त्रियों ने भी राजन के कार्यकाल विस्तार का समर्थन किया है, उनका मानना है विश्व में राजन की छवि बहुत ही अच्छी है और यदि राजन का कार्यकाल समाप्त होता है तो भारत को कई बिलियन डॉलर के विदेशी निवेश का नुकसान हो सकता है, हालाँकि केंद्र सरकार ने इस मामले पर अभी तक कुछ भी साफ़ नहीं किया है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here