अब अगर राजस्थान में बाइक पर बिना हेलमेट के मिले तो नहीं होगी खैर !

0
267

इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार राज्य में 31 अक्टूबर 2015 तक दुपहिया वाहन चालक एवं उसके पीछे बैठे सवार के लिए हैलमेट पहनने की अनिवार्यता सम्बन्धी अधिसूचना जारी की जानी थी। राठौड़ ने बताया कि केन्द्रीय मोटर यान नियम 1988 की धारा 129 के तहत हर दुपहिया वाहन चालक को ब्यूरो आॅफ इण्डियन स्टैण्डर्ड के मानकों की गुणवत्ता वाला हैलमेट पहनना अनिवार्य है।

केवल सिख, जो वाहन चालन करते समय पगड़ी धारण करते हैं, उन्हें ही इस नियम में छूट प्राप्त है। इसके अलावा राज्य सरकार को भी इस नियम को लागू करने में विवेकाधिकार प्राप्त था जिसके आधार पर राज्य में दुपहिया वाहन चालक एवं पीछे बैठे व्यक्ति के लिए चरणबद्ध रूप से हैलमेट धारण करने की अनिवार्यता की अधिसूचनाएं समय-समय पर जारी की गई थीं। अब नवीन अधिसूचना में राज्य सरकार के विवेकाधिकार की पूर्व की सभी रियायतों को निरस्त करते हुए राज्यभर में दुपहिया वाहन चालक और सवारी के लिए हैलमेट पहनना अनिवार्य कर दिया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Free wlmp converter to avi fifteen − twelve =