विकिलीक्स ने किया खुलासा, राजीव गांधी हथियारों के दलाल थे

0
15546

RAJIV gandhi

दिल्ली- विकिलीक्स ने एक चौकाने वाला खुलासा करते हुए कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी विदेशी कंपनियों के हथियारों की दलाली करते थे | विकिलीक्स ने कहा है कि जब राजीव गांधी इंडियन एयरलाइंस में बतौर पायलट काम कर रहे थे तब उन्होंने स्वीडन की एक कंपनी के लिए एजेंट का काम किया था |

देश के प्रतिष्ठित अखबार ‘द हिन्दू’ में छपी खबर के मुताबिक स्वीडन की कंपनी साब स्कानिया कंपनी के साथ राजीव गांधी के बेहद मजबूत संबंध थे | विकिलीक्स ने कहा है कि यह कंपनी भारत को लड़ाकू विमान बेचना चाहती थी लेकिन सौभाग्य से यह सौदा नहीं हो सका और यह डील ब्रिटिश कंपनी जगुआर को मिल गयी थी |

गौरतलब है कि कुछ समय पूर्व कुथ लिंडस्ट्रोम ने वेबसाइट ‘द हूट’ को दिए साक्षात्कार में भी दावा किया था कि बोफोर्स तोप सौदे में पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी के खिलाफ रिश्वत लेने के साक्ष्य नहीं हैं | लेकिन इटली के व्यापारी ओत्तावियो क्वात्रोक्की के खिलाफ पर्याप्त सबूत होने के बावजूद उन्हें देश से सुरक्षित बाहर जाने दिया गया |

बता दें कि राजीव गांधी जब भारत के प्रधानमंत्री थे उस समय उनके ऊपर आरोप लगा था कि भारतीय सेना के लिए खरीदी जाने वाली तोप बोफोर्स में राजीव गांधी सरकार ने घोटाला किया है | बताते चले कि स्वीडन की इस कंपनी बोफोर्स पर भारतीय सेना को तोप सप्लाई करने का सौदा हथियाने के लिए 80 लाख डालर की दलाली करने का आरोप लगा था | इसी घोटाले के बाद से लेकर अब तक किसी भी भारत सरकार ने भारतीय सेना के लिए तोप का एक भी सौदा नहीं किया था | नतीजा इतने समय से भारतीय सेना को तोप की कमी खल रही थी लेकिन वर्तमान मोदी सरकार ने इस कमी को भरने के लिए अमेरिका सहित देशी और विदेशी कंपनियों को भारतीय सेना के लिए तोपें बनाने के आदेश दे दिए है |

जार्ज फर्नांडिस पर भी लगाये आरोप –
विकिलीक्स ने न केवल पूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी पर ही आरोप लगायें है बल्कि भारत के पूर्व रक्षा मंत्री जार्ज फर्नांडिस के ऊपर भी आरोप लगाते हुए कहा कहा है कि खुद को अमेरिकी विरोधी बताने वाले जार्ज फर्नांडिस ने भारत में लगे आपातकाल के दौरान अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसी सीआईए से मदद मांगी थी |

विकिलीक्स ने खुलासा करते हुए बताया है कि इतना ही नहीं जार्ज को उस समय सीआईए से पैसे लेने में भी कोई एतराज नहीं था | खुलासे में यह भी कहा गया है कि जब देश में इंदिरा गांधी ने आपातकाल की घोषणा कर दी थी उस समय जार्ज फर्नांडिस ने अमेरिकी और फ़्रांसिसी सरकार से मदद मांगी थी |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY