आत्मदाह को आमंत्रण ना दे पाकिस्तान, चिंगारी का खेल बुरा होता है – राजनाथ सिंह

0
19886

New Delhi: Union Home Minister Rajnath Singh at a press conference in New Delhi on Friday. PTI Photo by Shirish Shete(PTI9_12_2014_000061A)

दिल्ली- कश्मीर में चल रहे भारी विवाद और पाकिस्तान की नापाक हरकतों का जवाब देते हुए गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने बेहद सख्त रुख अख्तियार कर लिया है | गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई की एक कविता को उदहारण स्वरुप दोहराते हुए पकिस्तान को सख्त शब्दों में कहा है कि चिंगारी का खेल बुरा होता है. औरों के घर आग लगाने का जो सपना, वह अपने हीं घर में सदा खरा होता है !

पढ़ें जब अटल जी ने अपनी कविता के माध्यम से सीधे दी थी पाकिस्तान को चुनौती- चिंगारी का खेल बुरा होता है – अटल बिहारी वाजपेई

गृहमंत्री ने साफ़-साफ़ शब्दों में पाकिस्तान को यह जवाब दे दिया है कि भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देना तत्काल प्रभाव से बंद कर दे और कश्मीर में हस्तक्षेप भी करना अन्यथा पाकिस्तान को इसकी भारी कीमत चुकानी पड सकती है | गृहमंत्री संसद में धारा 193 पर अल्पकालिक चर्चा के दौरान पाकिस्तान पर हमला बोलते हुए यह भी कहा है कि पाकिस्तान का निर्माण मज़हब के आधार पर हुआ है | जब पाकिस्तान का निर्माण हुआ था तब हम सोच रहे थे कि मज़हब के आधार पर चूँकि इस देश का विभाजन हुआ है तो अब यह शांति से रहेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ | आज भारत में जो भी आतंकी गतिविधियाँ हो रही है वे सभी पाकिस्तान प्रायोजित है | हम तो इनसे आसानी से निपट लेंगे लेकिन पाकिस्तान के साथ क्या होगा उसे वह कभी बर्दास्त नहीं कर पायेगा |
कश्मीरी युवओं को बरगला रहा है पाकिस्तान –
गृहमंत्री ने आज कहा है कि कश्मीरी लोग हमारे अपने है और उन्हें बलगाराया जा रहा है लेकिन हम ऐसा हरगिज़ नहीं होने देंगे और जल्द ही कश्मीर में फिर से हालात सामान्य हो जायेंगे | गृहमंत्री ने कश्मीर के हालातों पर चर्चा के दौरान कहा है कि कश्मीर में अब घातक हथियारों की जगह हम पेलेट गन का विकल्प तलाशने के बारे में बात कर रहे है | इसके लिए एक समिति का गठन किया जायगा यह समिति आने वाले दो महीनों के भीतर हमें अपनी रिपोर्ट सौंप देगी |
अब तक केवल 5 नागरिक और 85 आतंकियों को सेना ने मार गिराया है –
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज संसद में बयान देते हुए कहा है कि फिलहाल कश्मीर घाटी में पिछले इतने दिनों से चल रहे विबाद में अब तक घायल हुए 125 नागिरकों का उपचार चल रहा है | गृहमंत्री ने संसद में बताया है कि हाल की घटनाओं में कश्मीर में 1 सुरक्षाबल शहीद हुआ है और 38 नागरिकों की मौत हुई है | गृहमंत्री ने कहा है कि हमारे सुरक्षाबलों ने कश्मीर घाटी में आतंकी गतिविधियों और आतंकियों के ऊपर पूर्णतः लगाम लगाने की पहल की है और हम इसे आगे भी जारी रखेंगे | गृहमंत्री ने उदहारण देते हुए कहा है कि, ‘अगर हम पिछले कुछ वर्षों के रिकार्ड्स का अधययन करते है तो हम देखते है कि 2012 में कुल 220 आतंकी घटनाएं हुई थी और इन घटनाओं में 15 नागरिक और 72 आतंकी मारे गए थे | उन्होंने आगे बताया कि जबकि वर्ष 2015 में 205 आतंकी घटनायें हुई है और इनमें 17 नागरिक लेकिन 108 आतंकियों को हमारे सुरक्षाबलों ने मौत के घाट उतार दिया है | गृहमंत्री ने 2016 का जिक्र करते हुए कहा है कि इस वर्ष अभी तक 52 आतंकी घटनायें हुई है और हाल की घटना को यदि हम छोड़ दे तो केवल 5 नागरिक मारे गए थे लेकिन हमारे सुरक्षाबलों ने बड़ी बहादुरी के साथ 86 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY