“राम जी” हुए आर्थिक तंगी के शिकार, दी जान

0
133


मुरलीछपरा/बलिया : दोकटी थाना क्षेत्र के लालगंज निवासी रामजी सोनी 30 वर्ष ने आर्थिक तंगी व कर्ज व से ऊब कर फाँसी लगा आत्म हत्या कर ली। घटना की सूचना आसपास के लोगों को तो भी जब गुरुवार को घर से बदबू आने लगा सूचना मृतक के चाचा मोनी नाथ सोनी की सूचना पर पुलिस पहुँच मृतक के ससुराल सूचना भेजवाई।आने पर ताला तोड़ शव को बाहर निकाला गया।शव को पंचनामा कर अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया गया।

दोकटी थाना क्षेत्र के लालगज निवासी रामजी सोनी उम्र लगभग 34 साल पुत्र कुन्ज बिहारी सोनी के माता पिता बचपन में ही मर गए थे लगभग 15 साल पूर्व राम जी की शादी दो कटी थाना क्षेत्र के श्रीपालपुर गांव निवासी महंगी सोनी की पुत्री सोनी से हुई थी वैवाहिक जीवन सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था राम जी ने आर्थिक तंगी व कर्ज के चलते फाँसी लगा आत्म हत्या कर ली। पड़ोसी के सूचना पर प्रभारी थानाध्यक्ष विन्देश्वरी पाण्डेय मौके पर पहुच मृतक के ससुराल खबर की । पत्नी व बहन के आने के बाद भीतर से बन्द घर का ताला तोड़ अन्दर प्रवेश किया गया जहाँ भीतर कमरे में किवाड़ बन्द था।किवाड़ को धक्का देकर खोला गया जहाँ पंखे के खूंटी से गमछे से मृतक लटका मिला। लोगो के सहयोग से बाहर निकाला गया शव में बदबू फैल गया लोग वहां से भाग गए।लगता है तीन दिन पहले ही मृतक फाँसी से झूल गया था। पुलिस ने पंचनामा कर शव को अन्त्य परीक्षण के लिए जनपद मुख्यालय भेज दिया।

उसके चाचा मुन्नी लाल जो अलग हो पड़ोस में ही रहते है ने बताया कि तीन दिनों से भीतर से दरवाजा बंद था।आहट न मिलने पर संदेह हुआ जिससे कमरे के रोशन दान से झाक कर देखा गया तो फाँसी पर लटका दिखा ।तो पुलिस को खबर दी गयी।मौके पर क्षेत्राधिकारी बैरिया उमेश कुमार, दोकटी थाने पर तैनात एस आई राजकपूर सहित आधा दर्जन पुलिस भी पहुचे। इस संदर्भ में क्षेत्राधिकारी उमेश कुमार ने बताया कि आत्म हत्या का कारण प्रथम दृष्टया आर्थिक तंगी व गृह कलह है।

लोगों की माने तो गांव के ही कुछ लोगों से लाखों रुपए से अधिक कर ले लिया था और कमेटी के माध्यम से भी पैसा उठा लिया था राम जी पहले खो खोचा लगा कर अपन करता था किंतु कुछ दिनों से वह कर्ज को लेकर काफी परेशान था साहूकार पैसा वसूलने के लिए तरह तरह के दबाव बनाते थे वहीं दुकान लगाना भी विगत दो-तीन माह से बंद हो चुका था और झगड़ा के वजह से पत्नी भी 3 माह से मायके चली गई थी 5 दिन पूर्व ही किसी बात को लेकर राम जी के ससुराल वालों से झगड़ा हुआ था कुछ लोगों द्वारा पंचायत करके राम जी को समझाया था कि कुछ व्यवसाय करके कमाना चालू करो पत्नी घर आ जाएगी लोगों की माने तो मंगलवार की सुबह राम जी दिखाई दिया था किंतु उसके बाद से कहीं दिखाई नहीं दिया।

रिपोर्ट – विद्या भूषण चौबे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here