रेप विक्टिम परिजनों को मिल रही धमकी, दिया धरना

0
43

वाराणसी: मंडुवाडीह के नट बस्ती में विगत माह 11 तारीख को हुई 6 वर्षीया मासूम के साथ बलात्कार के बाद पुलिसिया कार्यवाही में शिथिलता से क्षुब्ध परिजनों ने गुरुवार को पीएम नरेंद्र मोदी के रविन्द्रपुरी स्थित संसदीय कार्यालय पर धरना दिया।

परिजनों का आरोप है कि पकडे गये आरोपी ने यह खुद स्वीकारा है कि उसके साथ एक व्यक्ति घटना में और साथ था उसे पुलिस गिरफ्तार नही कर रही है। पीड़िता की माँ ने कहा कि जबसे बच्ची को लेकर हम अस्पताल से घर आये है हमे धमकी मिल रही है, पूरी रात हम डर के साए में बिता रहे है। पुलिस से शिकायत करने पर केवल आश्वासन मिल रहा है। धमकी मिलने की शिकायत भी हमने मंडुवाडीह पुलिस से की लेकिन कोई फरियाद सुनने को तैयार नही है।

पीड़िता के माँ का आरोप है कि घटना के बाद तमाम नेताओं ने अस्पताल से लेकर घर तक आए और आश्वासन दिया, राजनीति की हमे न्याय नही मिला। घटना को एक महीना पूरा होने को है अब हमें सहारा देने वाला कोई नही है, पुलिस केवल थाने का चक्कर लगवा रही है आरोपी को पकड़ने के बजाय हमे केस हल्का होने की बात कहकर टाल मटोल कर रही है। परिजनों का कहना है कि जब तक आरोपी को कठोर सजा नही मिलती हम लड़ाई जारी रखेंगे।

बताते चले कि मूल रूप से गाजीपुर निवासी संजय कुमार (24) मंडुवाडीह के चांदपुर फुलवारिया गेट नम्बर 4 पर रहकर मजदूरी का काम करता था उसने हवस मिटाने के लिए नवापुरा चांदपुर के पटेल बस्ती पहुंचा और घर के बाहर सो रही एक बच्ची को गोद में उठाने का प्रयास किया ही था कि वह जग गई और चिल्लाने लगी थी। बच्ची के चिल्लाने से आस-पास के लोग उसे दौड़ा लिए जिससे आरोपी वहा से भागकर 50 मीटर दूर नट बस्ती पहुँच गया।

जहा मायके मंडुवाडीह नवापुरा नट बस्ती में रह रही प्रिया (काल्पनिक नाम) अपनी छह वर्षीय पुत्री के साथ घर के बाहर सोई थी। संजय सो रही मासूम को अपने हवस का शिकार बनाया और उससे दुष्कर्म कर मरणासन्न के हाल में छोड़कर भागने लगा। उसी दौरान जनता ने उसे देख लिया और धुनाई कर पुलिस के हवाले किया था। घटना के दिन काशी दौरे पर पहुंची राज्यमंत्री रीता बहुगुणा ने भी पीड़िता का हाल जानने अस्पताल पहुंची थी और परिजनों को मदद का आश्वासन दिया था मगर अब तक परिजनों को मदद नही पहुंची है। परिजनों का आरोप है कि लगातार हमे मारने की धमकी मिल रही है हमारी मांग है कि आरोपियों को जेल भेजा जाए।

रिपोर्ट- सर्वेश कुमार यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY