इण्ड़ियन मानवाधिकार एसोसिएशन ने वर्षों से गुमशुदा मां को बेटे से मिलाया

0
171


मिर्ज़ापुर (ब्यूरो)- मीरजापुर धरती पर जहां व्यस्त समय मे किसी अपनो से मिलने की फुर्सत किसी के पास नही है वही कुछ लोग संगठन के माध्यम से दूसरो का भला करने और मानवता को जिंदा रखने के लिए आज भी समय का आभाव आड़े आने नही देते है |

ऐसा ही एक मामला मीरजापुर जिले मे देखने को मिला जहां इण्ड़ियन मानवाधिकार के कार्यकर्ताओं ने एक मिशाल पेश करते हुए जिला लातेहार चेकनाका मुहल्ला शिवपुरी झारखण्ड़ की रहने वाली विमला सिन्हा को जो वर्षो से दिमागी संतुलन खो जाने के कारण मीरजापुर जिले के पथरहियां कमिश्नर आवास के पास विगत सात वर्षो से सड़क के किनारे रह रही थी | उन्हें उनका पता मालूम कर उनके बेटे विवेक सिन्हा से 5 मई को मिलाया, जिससे खुशी-खुशी दोनो मां बेटे इण्डियन मानवाधिकार एसोसिएशन के राष्ट्रीय चेयरमैन बी०एस०यादव सहित एसोसिएशन के फिरोज अहमद, छोटू चौबे, मनीष कुमार तिवारी, दुर्गा प्रसाद केशरवानी, जोखन राम बिंद, जुनैद, कमलेश, राजन कुमार विश्वकर्मा, छोटे लाल तिवारी, सीता राम बिंद, अभय दुबे, बिजेन्द्र कुमार पाण्ड़ेय, मु०तौफिक,गोविन्द कुमार गौतम के सहयोग को बहुत बहुत धन्यवाद देते हुए अपने घर को लौट गये। वही एसोसिएशन द्वारा ऐसी मनवता पेश करने पर जिले सहित अन्य जनपदों मे भी इसकी चर्चाऐं तेजी से हो रही है।

रिपोर्ट : अंशु मिश्र

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY