राजस्व प्राप्ति से सम्बधित अधिकारी कार्ययोजना बनाकर अपने कार्य में लाये तीव्रता और राजस्व लक्ष्यों को प्राप्त करें : डीएम

0
41


गौतमबुद्धनगर ब्यूरो : जिलाधिकारी बीएन सिंह ने कहा कि राजस्व प्राप्ति से सम्बन्धित जो विभाग है सरकार को राजस्व प्राप्त कराने में उनकी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका है अतः सभी अधिकारी गण सरकार की मंशा को स्पष्ट रूप से समझे और शासन द्वारा उन्हें जो राजस्व प्राप्ति के लक्ष्य दिये गये है उनका प्रत्येक माह प्राप्त करने का एक्शन प्लान तैयार करते हुये निरन्तर राजस्व प्राप्ति की जाये और इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही एवं शिथिलता न बरती जाये।

डीएम श्री सिंह कलेक्टेªट के सभागार में मासिक करकरेत्तर एवं मासिक स्टाफ बैठक की अध्यक्षता करते हुये सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दे रहे थे। उन्होनें राजस्व प्राप्ति के सम्बन्ध में विभाग वार समीक्षा करते हुये पाया कि वाणिज्यकर, स्टाम्प, आबकारी, परिवहन आदि विभागों के अधिकारियों द्वारा निर्धारित लक्ष्यों के सापेक्ष विगत माह में राजस्व प्राप्ति नहीं की गयी हैं। अतः सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों के द्वारा अधिक से अधिक प्रवर्तन कार्य किया जाये और राजस्व प्राप्ति कर लक्ष्यों को निरन्तर पूरा करने की कार्यवाही की जाये। उन्होनें कहा कि सभी अधिकारियों के द्वारा यह देखा जाये कि उनके द्वारा किस मद में अधिक राजस्व प्राप्ति करते हुये उनके लक्ष्य पूर्ण हो सकते है उसकी एक ठोस कार्ययोजना प्रत्येक अधिकारी द्वारा विभाग बार बनाते हुये उसके अनुसार कार्य किया जाये ताकि सरकार की मंशा के अनुसार अधिकाधिक राजस्व प्राप्त किया जा सकें।

डीएम ने स्टाम्प विभाग में लक्ष्यों को पूरा करने के उद्देश्य से कहा कि उनके द्वारा अभियान चलाकर यह देखा जाये कि जो वायर्स अपने आवास में प्रवेश कर गये है और उनके द्वारा अभी रजिस्ट्री नहीं करायी गयी है उनकी रजिस्ट्री करायी जाये ताकि अधिक से अधिक राजस्व उन्हें प्राप्त हो सके। इसी प्रकार आबकारी विभाग, परिवहन विभाग, एवं वाणिज्यकर विभागों के अधिकारी भी अपने राजस्व प्राप्ति के स्रोतों की खोज कर उस पर कार्यवाही करें। उन्होनें कहा कि प्रवर्तन कार्य के दौरान किसी का उत्पीड़न न किया जाये और विभागीय नियमों के तहत दृढता के साथ ठोस कार्यवाही करते हुये राजस्व प्राप्ति के लक्ष्यों का बढाया जाये।

जिलाधिकारी ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि उनके द्वारा सरकार एवं शासन की मंशा के अनुसार भू-माफियाओ के विरूद्ध कठोर कार्यवाही अमल में लायी जाये। सभी उप जिलाधिकारी गण तहसील स्तर पर टास्क फोर्स का गठन करते हुये समस्त सरकारी भूमि एवं सम्पत्तियों का चिन्हीकरण करते हुये उसका एक रजिस्टर तैयार करते हुये शासन की मंशा के अनुरूप इस दिशा में कठोर कार्यवाही की जाये। उन्होनें राजस्व वादों के निस्तारण के सम्बन्ध में भी कहा कि सभी अधिकारियों द्वारा नियमित रूप से न्याययिक कार्य करते हुये लम्बित वादों के निस्तारण में गम्भीरता दिखाई जाये। डीएम ने कहा कि राजस्व वसूली का कार्य सभी अधिकारियों के द्वारा प्रमुखता के साथ किया जाये और तहसीलों में जो बडे बकायेदार है उनके विरूद्ध नीलामी आदि की कार्यवाही की जाये।

बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुमार विनीत, उपजिलाधिकारी दादरी अमित कुमार सिंह, सदर राजेश कुमार सिंह, जेवर शुभी काकन, अतिरिक्त मजिस्टेªट विवेक कुमार श्रीवास्तव, डीएफओ गिरीश श्रीवास्तव तथा अन्य विभागीय अधिकारियों द्वारा भाग लिया गया |

रिपोर्ट – राकेश चौहान (जिला सूचनाधिकारी)

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY