डिप्टी सीएम के आदेश के बाद भी पीजीआई ने मौत से जूझ रही महिला को भर्ती करने से किया इंकार

0
105

कौशाम्बी (ब्यूरो) -: प्रदेश की राजधानी स्थित पीजीआई हास्पिटल के जिम्मेदारों ने मौत से लड़ रही एक महिला की बिगड़ती हालत के बारे में जानकर भी उसे हास्पिटल में भर्ती करने से मना कर दिया है, जिससे मरीज के परिजन उसकी हालत को लेकर बेहद परेशान हैं ।जानकारी के लिए बतादें कि जनपद कौशाम्बी के राजेश कुमार पत्रकार की बहन अन्जू देवी पत्नी विकास कुमार जो तिल्हापुर गाँव में ब्याही है जिसका चार दिन पहले आपरेशन से मृत अवस्था में बच्चा पैदा हुआ था, साथ ही उसे डेंगू भी हो गया था, जिसका इलाज शकुन्तला हास्पीटल इलाहाबाद में कराया जा रहा था, हालत ज्यादा बिगड़ जाने पर इलाज के दौरान ही डाक्टरों ने उसे पीजीआई लखनऊ के लिए रेफर कर दिया|

परन्तु जब परिजन उसे पीजीआई लखनऊ लेकर आये तो वहां के जिम्मेदारों ने मौत से जंग लड़ रही महिला को भर्ती करने से मना कर दिया है, साथ ही यह कह कर पल्ला झाड़ लिया है कि हास्पिटल में अभी बेड नहीं खाली है । जब इस बात कि शिकायत लेकर डिप्टी सीएम के पीए भी इस बाबत बात किया तो पीजीआई के जिम्मेदारों द्वारा पर उनकी भी बात को दरकिनार कर दिया गया है, जिससे साफ जाहिर हो रहा है कि गरीबों का इलाज उसकी औकात देखकर किया जाता है । परिजनों का कहना है कि मरीज बहुत ही नाजुक हालत में पहुँच चुकी है गर उसको जल्द से जल्द हास्पिटल में भर्ती नही किया गया तो उसके साथ किसी भी समय अप्रिय घटना घट सकती है ।

👉

रिपोर्ट – राजेश कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here