शिक्षामित्रों द्वारा सड़क जाम, धरने के साथ दिया गया ज्ञापन डीएम

0
42

रायबरेली ब्यूरो – सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ आज आर्दा समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएान के बैनर तले चला। मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन में शिक्षा मित्रो ने कहा की सुप्रीम कोर्ट द्वारा अपने फैसले उत्तर प्रदे के 1.72 लाख शिक्षा मित्रों का समायोजिन रद करार दिया है, जिससे उत्तर प्रदे के सैकड़ों की संख्या में समायोजित शिक्षा मित्रों ने विकास भवन परिसर में धरना दिया, फिर जुलूस की शक्ल में परदल मार्च करते हुए डिग्री कालेज चौराहें पर शहीद चौक के बाद सड़क जाम की रस्म अदायगी की। बाद में कलेक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री उत्तर प्रदे को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी कौ सौपा।

एसोसिएशन को जिलाध्यक्ष अजीत सिंह, महामंत्री पुष्परन्द्र त्रिवेदी व कोषाध्यक्ष विष्णु शरण मौर्य के नेतृत्व में धरना, प्रर्दान व ज्ञापन का कार्यक्रम प्रत्येक समायाजित शिक्षक शिक्षामित्र,  सामने रोजी रोटी की समस्या परदा हो गयी, यही नहीं इस फैसले से शिक्षा मित्रों  की जिन्दगी मौत से बदतर हो गयी है। लिखा गया कि शिक्षक व शिक्षा मित्र आत्मघाती कदम उठाने पर मजबूर है। मांग की गयी कि उत्तर प्रदे सरकार द्वारा अध्यापक सेवा नियमावली में सांधन करके हम सबकों सहायता अध्यापक पद पर समायोजित किया जाए, तब तक समान कार्य समान वेतन व्यवस्था लागू की गयी। समायोजित िक्षक व िक्षामित्रों की एकजुटता व प्रर्दशन के दौरान आक्रोश को देखते हुए पुलिस विभाग को पीएसी भी बुलाना पड़ी। यहीं नही पुलिस अधीक्षक कार्यालय के स्टाफ को भी पीएससी जवानों का रूप देकर प्रर्दान स्थल पर लगाया गया।

रिपोर्ट – अनुज मौर्य

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here