एस यच ओ एवं शनि देव चौकी इंचार्ज की मौजूदगी में कराई जा रही है मूर्ति विसर्जन

प्रतापगढ़ (ब्यूरो)-  ऐतिहासिक नगरी शनिदेव धाम के बकुलाही नदी के तट पर प्रशासन द्वारा र्निमित गढ्ढे बनवाकर कराई जा रही है मूर्ति विसर्जन।गढ्ढे में पर्याप्त मात्रा में पानी भरवाकर मूर्ति विसर्जन हो रहा है भक्त माता रानी की मूर्ति को इस गड्ढे में अपनी श्रद्धा भक्ति से नवरात्रि के नव दिन पूजा अर्चना के बाद आज विजय दशमी के दिन माता रानी की मूर्ति को विसर्जित कर रहे है और माता रानी का जयकारा लगा कर माता जी की अंतिम विदाई कर रहे है।माता जी की मूर्ति को विसर्जित करने के लिए भक्त बड़े जोर शोर और जयकारे के साथ आ रहे है और विसर्जित कर के माता रानी का जयकारा लगा कर वापस लौट रहे है।

मूर्ति विसर्जन पर स्वच्छता का विशेष ध्यान रखते हुऐ मूर्ति विसर्जित कराई जा रही है।इसी प्रकार ग्राम सभा सहेरुआ के पूरे घनश्याम गांव के निकट भी मूर्ति विसर्जित कराई जा रही है।चौकी इंचार्ज सूर्य प्रताप सिंह ने बताया कि अब तक 50 मूर्ति विसर्जित हो चुकी है और पिछले वर्ष के को देखते हुऐ लगभग 100 या 120 मूर्ति हो सकती है विसर्जित।मूर्ति विसर्जन में मान्धाता एस यच ओ देवेंद्र सिंह एवं शनिदेव चौकी इंचार्ज सूर्य प्रताप सिंह अपनी टीम के साथ मौके पर मौजूद चौकी के सिपाही विकास कुमार , वीरेंद्र सिंह ,कन्हैया लाल आदि रहे मौजूद |

रिपोर्ट – अवनीश कुमार मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here