साइबर अपराधियों ने लगाई महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन को एक लाख का चपत

0
71
प्रतीकात्मक

धनबाद (ब्यूरो)- छत्तीसगढ़ पुलिस ने ऑनलाइन ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया है। धनबाद में गिरफ्तार यह गिरोह खुद को बैंक अफसर बताकर मोबाइल से संपर्क करता था और एटीएम का पिन हासिल कर खाते से रुपये निकाल लेता था। जिनकी गिरफ्तारी हुई है, वे बदमाश सिर्फ आठवीं-दसवीं पास हैं। गिरोह ने फिल्म अभिनेता महानायक अमिताभ बच्चन को भी एक लाख रुपये की चपत लगाई है। छत्तीसगढ़ से आई विशेष टीम ने धनबाद के नक्सल प्रभावित टुंडी से बुधवार को आठ साइबर अपराधियों को पकड़ा था।

इन्हीं बदमाशों ने शुक्रवार को यह बात कुबूली है। मुकेश मिस्त्री व देवेंद्र मंडल के खाते में जमा हुई रकम जानकारी मिली है कि ठगी की रकम धनबाद जिले के सरायढेला स्थित स्टेट बैंक के खाताधारक मुकेश मिस्त्री और देवेंद्र मंडल के खाते में जमा हुई है। पूछताछ में बदमाशों ने फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन को भी ऑनलाइन ठगी के जरिए एक लाख रुपये की चपत लगाने की बात स्वीकारी है। पुलिस ने बदमाशों को कोर्ट में पेश कर 19 जुलाई तक रिमांड पर लिया है।


एटीएम कार्ड की डिटेल लेकर करते हैं ठगी-

पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि बिनोबा नगर स्टेट बैंक कॉलोनी निवासी व एसईसीएल के रिटायर्ड कर्मचारी सजल क्रांति सरकार ने 30 जून को सरकंडा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें उन्होंने बताया कि 17 जून को किसी अनजान आदमी ने उनके मोबाइल पर कॉल की और खुद को बैंक अफसर बताते हुए एटीएम कार्ड की डिटेल ले ली। थोड़ी देर में उनके मोबाइल पर 1 लाख 33 हजार 999 रुपये निकाले जाने का मैसेज आया। शिकायत मिलने पर एसपी मयंक श्रीवास्तव ने वरिष्ठ अफसरों के नेतृत्व में टीम बनाकर साइबर सेल के साथ जांच करने की जिम्मेदारी दी। बैंक स्टेटमेंट की बारीकी से जांच करने पर पता चला कि ठगों ने अकाउंट और एटीएम की गोपनीय पिन व ओटीपी हासिल कर इलेक्ट्रॉनिक वॉलेट में रुपये ऑनलाइन ट्रांसफर कर लिए।

करमाटांड़ में 20 से ज्यादा ग्रुप सक्रिय-
छत्तीसगढ़ पुलिस ने बुधवार को टुंडी पुलिस के सहयोग से पश्चिमी टुंडी के कमराटांड़ गांव में छापेमारी की थी। इसी छापेमारी में गिरफ्तार देवेंद्र और मुकेश मिस्त्री ने ठगी की बात कुबूल की है। टुंडी का यह गिरोह जामताड़ा के साइबर अपराधियों से गाइड होता है। इससे पहले भी इस गिरोह ने दिल्ली और मुंबई के लोगों को चूना लगाया है। यहां पहले भी छापेमारी हो चुकी है। लेकिन, इस बार सटीक सूचना के आधार पर छत्तीसगढ़ पुलिस ने एक साथ बड़ी गिरफ्तारी की है। वहां की पुलिस ने धनबाद पुलिस से भी सहयोग लिया। इस छापेमारी में देवानंद मंडल, बेदु मंडल, मुकेश मिस्त्री, नंदकिशोर मंडल, नवीन मंडल, खूबलाल मंडल, दीपचांद मंडल, महेंद्र मंडल को गिरफ्तार किया गया है।

हाल में इन सभी पर छत्तीसगढ़ में एक दर्जन लोगों से करीब पंद्रह लाख रुपये एटीएम से ठगी करने का आरोप है। पुलिस द्वारा इन अपराधियों के यहां से दर्जनों एटीएम कार्ड, साठ हजार नगद बरामद किया गया है। बुधवार को छत्तीसगढ़ व टुंडी पुलिस द्वारा करमाटांड़ गांव में छापेमारी मारने से अफरातफरी मच गई थी। कई जगह पुलिस से नोकझोंक भी हुई थी। टुंडी थाना प्रभारी अरुण कुमार ने बताया कि अभी और भी राज ये अपराधी खोलेंगे। छत्तीसगढ़ पुलिस सभी साइबर अपराधियों को अपने साथ छत्तीसगढ़ लेकर चली गई। गिरोह मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में करीब चार हजार लोगों को मोबाइल के जरिए ठगी का शिकार बना चुका है। पुलिस ने बताया कि करमाटांड़ में 20 से ज्यादा लोग अलग-अलग ग्रुप में ऑनलाइन ठगी करते थे।

रिपोर्ट- गणेश रावत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here