उत्तराखंड की वर्तिका के हाथों में नौसेना के सागर भ्रमण अभियान की कमान, अब सागार भी देखेगा भारत की बहादुर बेटी का जलवा

0
149

vartika joshi

नई दिल्ली- समुद्री नौकायान पोत तारिणी को शनिवार को नौसेना में शामिल कर लिया गया | आपको बता दें कि महादेयी के बाद भारतीय नौसेना के पास यह दूसरी समुद्री नौकायान पोत है | बताते चलें कि जब अगस्त में भारतीय नेवी की महिला अफसरों की एक टोली विश्वभ्रमण करने के लिए नौकायान से निकलेगी तब यही नौका उनका प्लेटफार्म बनेगी | इस नौका यान में लेटेस्ट सैटेलाईट, कम्युनिकेशन सिस्टम लगे हुए है जिनके माध्यम से यह नौका पूरी दुनिया के किसी भी समुद्री क्षेत्र में कही भी रहे इसे बेहद आसानी के साथ ट्रैक किया जा सकता है |

उत्तराखंड की बेटी करेगी इस अभियान की अगवानी-
बता दें कि विश्वभ्रमण पर निकलने वाली इस टीम की अगवानी भारतीय नेवी की लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी करने वाली है | यह भी बता दें कि यह नौका गोवा से अपने समुद्री सफ़र पर रवाना हो जायेगी और यह बिना रुके पूरी धरती का चक्कर पूरा करेगी | आपको बता दें कि वर्तिका जोशी एक बेहद होनहार नेवी की महिला अफसर है वह पहले भी नेवी की पहली नौकायान महादेयी से केपटाउन जा चुकी है और इतना ही नहीं वर्ष 2015 में गणतंत्र दिवस की परेड में भी हिस्सा लिया था |

महिलाओं के सशक्तीकरण और समुद्र में उनकी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए नेवी ने पूरी दुनिया के भ्रमण के लिए ऑल वूमन टीम भेजने का विचार बनाया है। लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी के नेतृत्व में छह महिला अफसरों की टीम इस प्रॉजेक्ट के लिए चुनी गई है। यह टीम दिसंबर में नेवी के पहले नौकायन पोत महादेई को केपटाउन ले जा चुकी है।

भारतीय नौसेना का कहना है कि महादेयी में जिन जरूरतों की आवश्यकता हमें महसूश हो रही थी उन सभी चीजों को इस नौका यान में शामिल किया गया है | यह बेहद आधुनिक और सुरक्षित नौकायान है | महादेयी के बारे में बताया गया है कि इस नौकायान ने पिछले 8 सालों के दौरान तकरीबन एक लाख से भी ज्यादा नॉटिकल मील का सफ़र तय कर लिया है | बता दें की तारिणी के सभी ट्रायल जनवरी माह में ही पूरेकर लिए गए थे और यह भी बता दें कि नेवी को जो समय दिया गया था उस समय से पहले ही इस यान की डिलवरी दे दी गयी है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY