समाज के अन्तिम व्यक्ति का उत्थान ही अन्त्योदय है-ब्लाक प्रमुख कालाकांकर

प्रतापगढ़ (ब्यूरो)- ब्लाक प्रमुख कालाकांकर श्री बी0एन0 सिंह ने अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी विकास खण्ड कालाकांकर तीन दिवसीय (02, 03 एवं 04 अगस्त 2017) मेले के समापन पर उन्होने अपने सम्बोधन में कहा कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी ने एकात्ममानववाद का श्रीगणेश किया। पं0 दीनदयाल जी अन्त्योदय का विकास चाहते थे। उनकी सोच थी कि जब तक समाज के अन्तिम व्यक्ति का विकास नही होगा तब तक राष्ट्र का समग्र विकास सम्भव नही है। उन्होने कहा कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी के आदर्शो का अनुकरण करना चाहिये। पं0 दीनदयाल अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का प्रमुख उद्देश्य है कि सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओ की जानकारी जन-जन को देना है। पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी बच्चो में स्वावलम्बन की भावना विकसित करना चाहते थे।

इस समापन के अवसर पर सी0एच0सी0 प्रभारी डा0 शरद गुप्ता ने डेंगू बुखार से बचाव के उपाय तथा 108 एवं 102 नम्बर की सुविधा के सम्बन्ध में लोगो को जानकारी दी। उन्होने यह बताया कि 102 नम्बर गर्भवती महिलाओं तथा 1 वर्ष के बच्चो के ईलाज के लिये हर समय उपलब्ध है। मेले में सूचना विभाग, उ0प्र0 कौशल विकास मिशन, उद्यान विभाग, बाल विकास परियोजना कालाकांकर, कृषि विभाग, साक्षरता मिशन, स्वास्थ्य विभाग, पशुपालन विभागा, वन विभाग द्वारा लगाये गये स्टालों से प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी गयी। सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा आये सांस्कृतिक दलों के द्वारा कठपुतली के माध्यम से प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओं जानकारी दी।

मेले में आये हुये अतिथियों का स्वागत एवं विभिन्न विभाग द्वारा लगाये गये स्टालों के प्रति आभार अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी श्री विनय कुमार सिंह ने व्यक्त किया। इस अवसर पर श्री सन्तोष कुमार पटेल ए0डी0ओ0 एस0टी0, श्री दीपक कुमार, श्री विभूति प्रसाद, श्री पुष्पेन्द्र शुक्ला, श्री नागेन्द्र कुमार आदि उपस्थित थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here