फोरेंसिक टीम पहुँची अपटा ग्राम लिए घटना स्थल से सैम्पल

0
199

रायबरेली/ऊंचाहार (ब्यूरो) कोतवाली के अपटा बरगदहा मे हुए पांच लोगों की हत्या के मामलें मे पुलिस विभाग के अधिकारियों ने मौके का निरीक्षण करके तहकीकात जानी कोतवाली के गांव अपटा मे हुए पांच लोगों के हत्या के मामले में पुलिस विभाग के एडीजी जोन अभय प्रसाद व आईजी रेंज जय नारायन सिंह ने घटना स्थल का औचक निरीक्षण किया जहां पे उन्होने हत्या के पहलुओं पर बिंदुवार जानकारी हासिल करने के लिये कई घण्टे तक गांव मे ही ग्रामीणों के बीच रहे। जिनके अलावा लखनऊ की फ ारेंसिक टीम मौके पर पहुंचकर घटनास्थल पर विभागी जांच हेतु खून से लतपत मिट्टी का सैम्पुलिंग किया गया। वहीं डीएम व एसपी मौके पर पहुंच नीरिक्षण किया है। जमीनी विवाद को लेकर भी चल रहा था तनाव कोतवाली के गांव अपटा मे पांच हुए हत्याओं मे मृतक रोहित का इसी कोतवाली क्षेत्र के गांव भूषई पाण्डेय का पुरवा में रिस्तेदारी है जहां पे वह स्वयं रहने के लिये घर बनवा रहा था जहां पर घर बनवा रहा था मृतक रोहित वहीं पे ग्राम समाज की जमीन थी जिसको लेकर प्रधान पुत्र राजा से कई दिनो से विवाद चल रहा था।

कहीं राजनीतिक ध्रुवीकरण का खेल तो नहीं मृतक पक्ष से मनीष मिश्र भी लापता चल रहे हैं वे कोतवाली के गांव अपटा मे हुए मौत के समय वहां पर मौजूद थे लेकिन वे कहां चले गये ये कोई पता नही लग पा रहा है जिनके लापता होने पे तरह तरह की चर्चा रही है क्योंकि मनीश का घर ऊंचाहार कोतवाली के गांव सलारपुर ही है और इसी कोतवाली के गांव अपटा मजरे इटौरा बुजुर्ग निवासी प्रधान पुत्र राजा यादव प्रधानी का कार्य करता हैं जिसकी बात हलाकि क्षेत्र मे चर्चा का विशय बना हुआ है।

चडरई बिंदागंज मार्ग जाम फिर खुला
ऊंचाहार। चडरई से ंिबदागंज को जाने वाली मार्ग को सोमवार की देर सांयकाल 9 बजे से मंगलवार की प्रात: काल तक ये मार्ग पे चार पहिया व दोपहिया वाहनों के आने जाने मे रोक था हलाकि गहन पूछतांक्ष के बाद आसपास के ग्रामीणों को दो पहिया से ही जाने दिया जाता था हलाकि मंगलवार के दिन 10 से उस मार्ग को बहाल कर दिया गया है।

छावनी मे तब्दील है गांव
अपटा मे पांच मौतों के बाद घटनास्थलसे लेकर गांव के चप्पे चप्पे तक पुलिस फोर्स भारी मात्रा मे तैनात रहा है। जिसमे पीएससी के जवानों से लेकर आरएफ के जवान तक लगाये गये थे क्योंकि प्रधान के तीनो पुत्रों के गिरफ्तारी के बाद तनाव न कट सके हलाकि प्रधान पुत्रों को हिरासत मे लेने के कारण सोमवार के दिन पुलिस की गाडियों को ग्रामीणों ने घेर लिया था जिसके कारण उनके पुत्रों को ग्रामीणों के अक्रोष के बाद पुलिस को छोडना पड गया था। हलाकि मंगलवार के दिन प्रधान के तीनो पुत्रों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जिसके मद्देनजर ही ये कडी सुरक्षा लगाया गया है और कहां चले गये असलहे गांव अपटा मे हत्या के गये पांचों के पास असलहे थे जिसकी चर्चा हलाकि काफी थी

रिपोर्ट – अनुज मौर्य

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY