संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत

0
90
प्रतीकात्मक

खीरो/रायबरेली (ब्यूरो)- जिस प्रेमिका ने अपने प्रेमी की खातिर दो वर्ष पहले जाति, घर, समाज को तिलांजलि देकर प्रेमी के साथ प्रेम विवाह कर जिंदगी को जीने की वादे कसमे खाकर एक साथ रह रहे थे और उसके पेट मे आठ माह का गर्भ पल रहा था वही रविवार को संदिग्ध परस्थितियो में उसका शव छत के कमरे में रस्सी के सहारे लटकता मिला, पति ने घटना की जानकारी पुलिस को दी |

जानकारी मिलते ही सीओ चन्द्रदेव यादव भी घटनास्थल पर पहुँच गये। पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पति को कस्टडी में ले लिया। घटना की जानकारी मिलने पर स्थानीय लोगो सहित लड़की पक्ष के लोगो का मजमा लग गया।

जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के कस्बा खीरो पुरानी बाजार निवासी रामनारायण कोरी के पुत्र जितेंद्र का कुम्हारन खेड़ा मजरे मदनापुर गांव निवासी रामबहादुर लोधी की बेटी पदमा उर्फ रेनू (22) से प्रेम प्रसंग चला और जब प्यार परवान चढ़ा तो बंदिशे भी बढ़ गयी लेकिन प्यार कभी झुकता नही की तर्ज पर दोनों जवां दिल मिलते रहे और दूसरे के बिना न रह पाने की दुहाई देने लगे अंततः दोनों को प्यार इस कदर सिर चढा की दोनों की नजदीकियों पर घर समाज का भी कोई फर्क नही पडा।

प्रेमी-प्रेमिका अपने हमसफर के लिए बेकरार रहते रहे और आखिरकार सारे बन्धन तोड़कर दोनों ने घर से भाग कर प्रेम विवाह कर लिया | कुछ दिन के बाद जब माहौल सामान्य हुआ तो रेनू अपने प्रेमी के घर खीरो में आकर रहने लगी, दोनों के बीच मधुरता के साथ रहने लगे, इसी इसी बीच दोनों के प्यार में एक दूसरे पर शक की सुइयां चलती रही जिसको लेकर दोनों के बीच कहीं ना कहीं विवाद हुआ करता था।

रविवार को जितेंद्र अपने घरवालों के साथ खेतों में काम कर रहा था इसी बीच जब वह लगभग 11ः00 बजे घर आया तो उसकी पत्नी रेनू का का शव फांसी से रस्सी के सहारे कुंडे से लटकता मिला उसने घटना की जानकारी पुलिस को दी सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है | वही जानकारी मिलने पर क्षेत्राधिकारी लालगंज चंद्रदेव यादव भी घटनास्थल पर जाकर मौका मुआयना किया स्थानीय लोगों का कहना है कि अक्सर दोनों के मध्य किसी बात को लेकर विवाद हुआ करता था वही।

मृतक रेनू की बड़ी बहन का आरोप है कि रेनू ने उसे शनिवार को फोन कर मारपीट की घटना की जानकारी दी थी और मेरी बहन को इन्हीं लोगों ने ही मारा है फिलहाल यह तो पुलिस की जांच का विषय है लेकिन सवाल यह है कि आखिर उस अबूझ शिशु का क्या गुनाह था जो धरती से पर आने से पहले ही खत्म हो गया। कोई घटना की जानकारी हवा में फैल गई लोगों का मजमा रामनारायण के घर लग गया वही बड़ी तादाद में लड़की पक्ष के लोग जोर-जोर से चिल्लाकर यह आरोप लगा रहे थे कि एक लड़की को लड़के पक्ष के लोगों ने ही मार कर लटका दिया है। वही समाचार लिखे जाने तक पुलिस को तहरीर नहीं मिली थी इस संबंध में थानाध्यक्ष संजय सिंह ने बताया कि तहरीर के मुताबिक आवश्यक कार्यवाही कर दोषियों को जेल भेजा जाएगा।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य/धर्मेंद्र भारती 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY