मंत्री के निरीक्षण में कार्यदायी संस्था के अधिकारी रहे नदारत

0
50


भदोही ब्यूरो : प्रदेश सरकार ऐसी परियोजनाओं जो पूर्ण होने वाली है, उसे अपने 100 दिन के कार्यकाल के कार्यक्रम में शामिल कर रही है। ताकि उसे शीघ्र पूरा करा कर 100 दिन में समर्पित कर सके। लेकिन कार्पेट एक्सपो मार्ट का तो अभी 60 फीसदी ही काम पूरा हुआ है। 40 फीसदी काम को पूरा होने में काफी समय लगेगा।

 
उक्त बाते प्रदेश के सुक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग व निर्यात प्रोत्साहन के कैबिनेट मंत्री सुरेश पचौरी ने शुक्रवार को कार्पेट एक्सपो मार्ट के निरीक्षण के दौरान कही। उन्होने कहा कि कार्यदायी संस्था ने 30 जून को कार्य पूर्ण कर सौपने की बात कही थी। लेकिन इसे देख ऐसा नही लग रहा कि कार्यदायी संस्था कार्य को दिए गए तिथि में कार्य को पूरा नही करा सकेगा। काबीना मत्री ने कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड के जिम्मेदार अधिकारियों से बात करनी चाहि। लेकिन वे उपस्थित नही रहे। जिस पर मंत्री ने नाराजगी जताई। कहा कि कार्यदायी संस्था से लखनऊ में बैठक की जाएगी। वही पर परियोजना के प्रगति का हाल जाना जाएगा। लेकिन फिलहाल परियोजना को गति देने के लिए जिलाधिकारी को उनके नेतृत्व में समिति गठित करने का निर्देश दिया है। सप्ताह में एक बार समिति से जुड़े अधिकारी कार्पेट एक्सपो मार्ट का दौरा कर उसे गति देने का काम करेगे। ताकि परियोजना को जल्द से जल्द पूरा कराया जा सके। श्री पचौरी ने कहा कि कार्पेट एक्सपो मार्ट परियोजना अच्ठी है। भारतीय कालीन उद्योग को इससे बढ़ावा मिलेगा। निर्यात बढ़ेगा तो देश को अधिक से अधिक विदेशी मुद्गा अर्जित होगी ।

उन्होने कहा कि कालीन निर्माण में ऊन का इस्तेमाल होता है। प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा ऊल का उत्पादन हो इसके लिए सरकार भेड पालन को प्रोत्साहन दे रही है। मंत्री ने कहा कि प्रदेश में तीन कंबल कारखाना बंद पड़े है। गोपीगंज में स्थित बंद पड़े कंबल कारखाने को चालू करने के लिए बजट में ले लिया गया है। जो चालू हो जाएगा। बंद दो अन्य कंबल कारखानों को शीघ्र चालू करा दिया जाएगा।

इस मौके पर जिलाधिकारी विशाख जी प्रमुख सचिव सुक्ष्म एवं लघु उद्योग व निर्यात प्रोत्साहन डॉ रजनीश दूबे संयुक्त आयुक्त उद्योग इन्द्र मोहन दूबे उपजिलाधिकारी रामजी लाल व क्षेत्राधिकारी परमहंस मिश्र सांसद विरेन्द्र सिंह विधायक रविन्द्र नाथ त्रिपाठी  भाजपा जिलाध्यक्ष हौसला प्रसाद पाठक शैलेन्द्र दूबे ओम प्रकाश पाण्डेय विनीत बरनवाल दीपू विश्वकर्मा व प्रिंस गुप्त आदि प्रमुख रुप से मौजूद रहे।

रिपोर्ट : रामकृष्ण पाण्ड़ेय

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY