मैनपूरी में बज चुका है चुनावी बिगुल, सपा और भाजपा में हो सकती है कांटें की टक्कर

0
212

मैनपुरी – मैनपुरी में विधान सभा के चुनावो की बात करें तो इस वक्त चारो सीटों पर समाजवादियों के विधायकों कब्जा बना हुआ है। इस बार सपा के सिटिंग विधायक राज कुमार यादव फिर से मैनपुरी की सदर सीट से चुनाव मैदान में है, तो वहीं भाजपा के पूर्व विधायक अशोक सिंह चौहान भी एक बार फिर से सदर सीट पर अपना परचम लहराने को मैदान में है। गुरुवार को यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मैनपुरी आकर राजकुमार के लिए जमीन तैयार की तो भाजपा के संगीत सोम ने यहाँ की जनता से अपील की कि वे एक बार फिर से अशोक चौहान को अपना समर्थन दे।

जिस तरह से चुनावी माहौल चल रहा है ऐसे में जनता के मन टटोलने की बात करें तो अनुमान यह निकल कर आ रहा है जिसमें सपा और भाजपा के प्रत्याशियों में सीधी टक्कर होती नजर आ रही है। अगर हम बसपा की बात करें तो अब तक जितने भी विधानसभा चुनाव हुए उसमें बसपा को कभी भी जीत नहीं मिली। हमेशा ही भाजपा और सपा के प्रत्याशी अपनी जीत दर्ज कराते रहे हैं । इस बार पूर्व भाजपा विधायक अशोक चौहान मैदान में हैं, और उनके लिए भाजपा के स्टार प्रचारक और सरधना के विधायक संगीत सोम और सुब्रत पाठक ने रोड शो किया।

नहीं चली कभी लहर –
इस सीट पर कभी भी कोई राजनीति लहर नहीं चलती। वर्ष 2007 में जब बसपा की लहर थी उस समय बसपा दूसरे नंबर पर भी नहीं रही। भाजपा को जीत मिली थी और सपा दूसरे नंबर पर रही। वर्ष 1985 के बाद से कांग्रेस यहां पर दूसरे नंबर पर भी नहीं आ पाई। वर्ष 2012 में इस सीट पर सपा को जीत मिली। अगर यहाँ के आंकड़ों पर नजर डाले तो कुल मतदाता 2,90,690, महिला  1,31,036, पुरूष 1,59,652, मतदान प्रतिशत 57.60 % रहा है।

समाजवादी पार्टी से ये थे मैदान में 
वर्ष 2012 में राजकुमार यादव को 54,990 मत मिले थे। बसपा की रमा शाक्या को 40,781 मत और कांग्रेस के कालीचरण यादव तीसरे नंबर पर थे। कुल 15 प्रत्याशी मैदान में थे।

इस बार ये हैं मैदान में 
वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव के लिए बसपा के महराज सिंह शाक्य, भाजपा के अशोक सिंह चौहान , सपा के राजकुमार यादव , रालोद के प्रदीप कुमार, जनअधिकार मंच के विनय वर्मा और पांच निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजम रहे हैं।

जनता की बात करे तो उनका साफ़ तौर पर केहना है कि हम ऐसे प्रत्याशी को वोट देना चाहते है, जो हमारे यहाँ का विकाश कराये और वेरोजगारी के लिए कोई ठोश कदम उठाये। जनता का फैशला तो अब आना शेष ही है।

रिपोर्ट – प्रमोद कुमार सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY