सपा से “नारद”मोह भंग,चढ़ गये हाथी पर

0
185

narad rai

बलिया(ब्यूरो)- पूर्वांचल की राजनीति में रविवार को एक और भूचाल उस समय आ गया, जब सपा से बलिया नगर विधायक व पूर्व मंत्री नारद राय ने बसपा का दामन थाम लिया। बसपा ने उन्हें बलिया नगर से प्रत्याशी भी घोषित कर दिया है।

इससे पहले बलिया नगर से बसपा ने रामजी गुप्त को चुनाव मैदान में उतारा था। सपा हाईकमान में मचे पारिवारिक उठापटक के दौरान मुख्यमंत्री ने जिन चार कैबिनेट मंत्रियों को बर्खास्त किया था, उसमें नारद राय भी शामिल थे। मुलायम सिंह ने जो सूची जारी की थी, उसमें नारद राय को बलिया नगर का प्रत्याशी भी बनाया गया था। लेकिन अखिलेश यादव के हाथ में पार्टी की चॉबी मिलने के बाद से नारद राय के टिकट पर संशय हो चला था।

इसी बीच, सपा के सचेतक रहे पूर्व मंत्री व एमएलसी अम्बिका चौधरी ने बसपा का दामन थाम लिया। यही नहीं, बसपा ने फेफना से अभिराम सिंह दारा को हटाकर अम्बिका चौधरी को प्रत्याशी बना दिया। बलिया नगर को छोड़ बलिया के सभी सीटो से सपा प्रत्याशी घोषित होने के बाद इस बात की चर्चा जोरों पर थी कि नारद राय भी बसपा में शामिल हो सकते है। रविवार को बसपा के राष्ट्रीय सचिव सतीशचन्द्र मिश्र ने आनन-फानन में प्रेस बुलाकर न सिर्फ नारद राय को बसपा में शामिल कराया, बल्कि बलिया नगर से प्रत्याशी भी घोषित कर दिया।
रिपोर्ट-संतोष कुमार शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here