सड़कों को गड्ढा़ मुक्त करने का सरकार का दावा हवा हवाई

0
76

कोंछाबाजार/फैजाबाद ब्यूरो- विगत विधानसभा चुनाव 2017 में विकास के मुद्दे पर प्रचंड बहुमत में आई भाजपा सरकार अब अपने ही चुनावी वायदों से विमुख होती प्रतीत हो रही है। शासन द्वारा प्रदेश की सभी सड़कों को 15 जून 2017 तक गड्ढा मुक्त करने का फरमान किया गया था किंतु हकीकत इससे कहीं इतर है । 26 जुलाई को सीएम योगी के फैज़ाबाद आने के कार्यक्रम से बाजार वासियों में उम्मीद बंधी थी कि जल्द ही बदहाल सड़क ठीक होगी।

विकासखंड बीकापुर क्षेत्रांतर्गत कोंछा बाजार में मुख्य सड़क की दुर्दशा बाजारवासियों व राहगीरों के लिए मुसीबत का सबब बनी हुई है| इस बाजार में सड़क टूट कर चकनाचूर हो गई है, जिससे सड़क में ही 1 से 3 फुट की गहराई वाले गड्ढे हो गए हैं| बरसाती पानी व बाजार के दुकानों और प्रतिष्ठानों का पानी सड़क पर एकत्रित हो रहा है| इस सड़क दुर्दशा के बाबत यहां के ग्राम प्रधानों और पूर्व प्रधानों के अलावा व्यवसाइयों ने इस तरफ कई बार आवाज उठाई किंतु नतीजा सिफर ही रहा| मौके पर स्थित बदतर बनी हुई है| जलभराव से जमा यह दूषित पानी वाहनों के आने जाने से दुकानों तक फैल जाता है और प्रायः दो चक्के से आने जाने वाले राहगीरों को सराबोर कर देता है। बाजार के मध्य सड़क पर पानी होने के कारण राहगीरों के अलावा बाजारवासी भी परेशान हैं| जागरुक लोगों ने कई बार सड़क के किनारे जल निकासी के लिए व्यवस्थित नाली निर्माण की मांग उठाई लेकिन कार्यवाही नहीं हो सकी है।

कोछा बाजार स्थानीय बीकापुर तहसील की पुरानी ग्रामीण अंचल की एक प्रमुख बाजार है| इस बाजार में लोहे बिल्डिंग मेटेरियल क्लॉथ हाउस स्टेशनरी मिष्ठान भंडार जलपान गृह किताब कापियों की दुकानें टेंट हाउस ऑटो पार्ट्स फर्नीचर की दुकानें जैसे विभिन्न प्रकार की सैकड़ों दुकाने संचालित हैं।

यह बजार खजुरहट से मिल्कीपुर को जोड़ने वाली मुख्य मार्ग पर खजुरहट से 5 किलोमीटर पश्चिम स्थित है यह बाजार कोछा एवं सोनबरसा ग्राम पंचायत में संयुक्त रुप से पड़ती है बाजार के व्यवसाइयों और राजनीतिक दलों के लोगों की मांग के बाद भी इस बाजार में आवश्यक सुविधाओं का जबरदस्त अभाव है, जिसके परिणाम स्वरुप कोछा बाजार का समुचित विकास नहीं हो पा रहा है । यहां के लोग आज भी समस्याओं से जूझने को मजबूर हैं ।

दवा कारोबारी तनवीर अहमद सिद्दीकी ने बताया कि सड़क की दुर्दशा के कारण राहगीर चोटिल हो रहे हैं और वाहन भी क्षतिग्रस्त हो रहे हैं| युवा नेता सत्य प्रकाश यादव ने कहा कि सड़क पर कई वाहन फंस जाते हैं, जिन्हें ट्रैक्टर व क्रेन की मदद से निकाला जाता है। जनता जब तक समस्याओं के लिए आंदोलन नहीं छोड़ेगी, तब तक विकास कार्य होना आसान नहीं है ।

कोछा के पूर्व प्रधान शत्रुघ्न प्रसाद का मानना है कि लंबे अरसे से व्याप्त सड़क दुर्दशा से बाजार का अपेक्षित विकास नहीं हो पाया है । होटल कारोबारी राज कुमार गुप्ता का कहना है कि सूबे में सत्ता परिवर्तन तो हो गया किंतु समस्या जस की तस बनी है बाजार के ही शैलेश सिंह का मानना है कि 26 जुलाई 17 को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के फैजाबाद जनपद में संभावित दौरे से हम लोगों को उम्मीद बंधी है कि योगी जी ग्रामीण अंचल के सड़कों की दुर्दशा के संबंध में कुछ घोषणाएं जरूर करेंगे । स्थानीय निवासी भाजपा के वरिष्ठ नेता व एडवोकेट विजय सिंह ने बताया कि सड़क के हालात के संबंध में क्षेत्रीय विधायक गोसाईगंज इंद्र प्रताप तिवारी उर्फ खब्बू तिवारी को अवगत कराया गया है| विधायक ने शीघ्र ही सड़क को बनवाने का वादा किया है मसौधा से आए राहगीर देवेश यादव ने बताया कि ऐसी खराब सड़क की हालत उन्होंने पहले कहीं नहीं देखी । सपा नेता व पूर्व जिला पंचायत सदस्य संजय यादव ने कहा कि 15 जून की डेडलाइन खत्म होने के बाद भी क्षेत्र की सभी सड़कों की हालत बदतर स्थिति में ही है।

रिपोर्ट- यादवेन्द्र मोहन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here