सावन की शिवरात्रि आज, बाबा के दर्शन को उमड़ी भीड़

0
105

वाराणसी (ब्यूरो) – काशी में सावन का महीना यानि भगवान शिव की आराधना का विशेष माह। इस माह में भगवान शिव की आराधना के लिए भक्त लालायित रहते हैं, काशी में सावन मास में पड़ने वाली शिवरात्रि मे विशेष प्रकार से पूजा अर्चना होती है । वैसे तो शिवरात्रि हर माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाई जाती है, लेकिन साल में दो बार आने वाली विशेष शिवरात्रि का हिंदू परंपरा में बड़ा ही महत्वपूर्ण स्थान है।

ज्योतिषों के अनुसार  फाल्गुन महीने में कृष्ण पक्ष चतुर्दशी को आने वाली शिवरात्रि को महाशिवरात्रि कहा जाता है। इसके अलावा दूसरी बार सावन महीने में कृष्ण पक्ष चतुर्दशी को भी भगवान शंकर की आराधना के साथ शिवरात्रि मनाई जाती है। आस्था यह है कि शिवरात्रि को पूजा आराधना करने से दस गुना पुण्य मिलता है, वहीं भगवान शिव हर मुरादें पूरी करते हैं। सावन की शिवरात्रि आज पड़ रही है ज्योतिषों के अनुसार रात्रि नौ बजकर उनचास मिनट से चतुदर्शी तिथि से आरंभ होगा और अगले दिन यानी बाईस जुलाई को छह बजकर सत्ताईस मिनट तक रहेगा ।

कहा जाता है कि इस शुभ मुहूर्त में भगवान शिव का पूजन आराधना कर सम्पूर्ण मनोकामनाएं पूरी की जा सकती है। ज्योतिषाचार्य के अनुसार सावन माह के प्रारंभ होते ही सृष्टि के पालनकर्ता भगवान विष्णु विश्राम के लिए अपने लोक चले जाते हैं और अपना सारा कार्यभार भगवान शिव को सौंप देते हैं। भगवान शिव माता पार्वती के संग पृथ्वी लोक पर रहकर समस्त धरतीवासियों के संरक्षण का काम करते हैं।

रिपोर्ट – सन्तोष कुमार सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here