नहर की जमीन पर बनाया जा रहा विद्यालय भवन, ग्रामीणों ने की बाउंड्रीवाल हटवाने की मांग

0
70

 

बछरावाँ(रायबरेली ब्यूरो)- भूमाफियाओं की कार्यशैली व गुंडागर्दी के चलते हजारों बेहतर कार्य करने के बाद भी अखिलेश सरकार को सत्ता से बाहर का रास्ता देखना पड़ा| सरकार बदल गयी दूसरा निज़ाम आ गया परन्तु भूमाफिया आज भी सरकारी जमीनों पर कब्जे करने में लगे हुए है। ऐसा ही एक मामला क्षेत्र के राजामउ ग्राम सभा में देखने को मिला। इस ग्राम सभा के अंदर राजामऊ माइनर के किनारे चलने वाले केडीसीएल स्कूल का विकास किया जाने लगा। विद्यालय का विकास तो ठीक था परंतु उसकी जो बाउंड्रीवाल खिंचवाई जा रही है उसमें नहर की पटरी को भी नही बख्शा गया। विद्यालय प्रबंधक द्वारा नहर की पटरी पर ही दीवार खड़ी कर दी गयी।

इस संदर्भ में विद्यालय परिसर में मौजूद एक कर्मचारी ने बताया कि प्रबंधक की जमीन नहर के दोनों तरफ है। विद्यालय की तरफ वाली जमीन का रकबा पूछे जाने पर उसके द्वारा कोई जबाब नही दिया गया। सवाल यह उठता है कि प्रबंधको द्वारा नहर सीमा को छोड़ने से भी गुरेज नही किया गया दोनों तरफ जमीन होने का मतलब ये तो नही है कि नहर की जमीन भी विद्यालय प्रबंधको की हो गयी। क्षेत्रीय ग्रामीणों की मांग है कि तत्काल प्रभाव से नहर की पटरी पर बनी दीवार को हटवाया जाये।

क्या कहती है ग्रामप्रधान-

ग्रामप्रधान श्रीमती पूनम तिवारी से जब इस संदेर्भ में वार्ता की गयी तो उन्होंने कहाकि अभी उनकी जानकारी में उक्त प्रकरण नही आया है । अब पता चला है तो जांच करवाई जाएगी और किसी भी सरकारी जमीन को क्षति नहीं पहुँचने दी जायेगी।

रिपोर्ट- जय सिंह पटेल 
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here