कृषि विश्वविद्यालय पहुंची विदेशी वैज्ञानिकों की टीम

0
120

agriculture university
समस्तीपुर : राजेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय पूसा को केन्द्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा मिलने के बाद यहां अब विदेशों से भी कृषि वैज्ञनिकों का दौरा होने लगा है, किसानों के हित में विश्वविद्यालय के स्तर से किए जा रहे कार्यों का जायजा लेने ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों की एक टीम कल बुधवार को पूसा पहुंची |

आज गुरूवार से टीम के सदस्य विश्वविद्यालय के सभी कार्यों का जायजा लेंगे, ऑस्ट्रेलिया यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक डॉ. महेश घटाला एवं डॉ. राम दलाल सहित आईसीएआर पटना के वैज्ञानिक भी इसमें शामिल हैं, इन वैज्ञानिकों की टीम ने 20 फार्म में चल रहे हैं, नवीनतम तकनीक द्वारा गेहूं की बुआई एवं ड्रिप इरीगेशन से गेहूं फसल में चल रहे सिंचाई कार्य आदि का निरीक्षण किया |

निरीक्षण के दौरान विज्ञानिकों ने काफी प्रसन्नता व्यक्त की, साथ-साथ 3 सेंटीमीटर एवं 5 सेंटीमीटर की गहराई में किए गए गेहूं की बुआई का निरीक्षण भी किया, जिसमें पाया गया कि तीन एवं 5 सेंटीमीटर की गहराई में जो गेहूं की बुआई हुई है, उसमें अधिक कल्ला निकले हुए हैं जो कि काफी लाभदायक होगा, इससे उत्पादन एवं उत्पादकता दोनों बढ़ेगी |

वहीं ड्रिप इरीगेशन एवं मेड विधि से खाद को ड्रिल मशीन द्वारा खेत में डालना आदि विषय पर विस्तारपूर्वक स्थानीय वैज्ञानिकों से विचार-विमर्श किया, इसके साथ-साथ संस्थान में लगाए गए अलग-अलग कृषि पद्धति एवं कृषि फसल मक्का गेहूं सरसों आदि का भी निरीक्षण किया, मौके पर स्थानीय वैज्ञानिकों में डॉ. दीपक, डॉ. झाबरमल, डॉ. आरसी भारती, डॉ. मुनमुन मनीष कुमार एवं सुनील कुमार मौजूद थे |

रिपोर्ट – रंजीत कुमार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY