एस डी एम् ने दिया कार्यवाही का आदेश, एस ओ ने कार्यवाही करने के बजाय की गलत टिप्पणी

0
233

अमेठी(ब्यूरो)- अमेठी जिले में आज एक सनसनीखेज मामला सामने आया है जिसमें एक ऑडियो वायरल हुआ है| जिसमें इस ऑडियो में अमेठी जिले के थानाध्यक्ष बाजार शुक्ल श्रीमती रेखा सिंह ने उप जिलाधिकारी मुसाफिरखाना द्वारा दिए गए आदेश के संदर्भ में आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए कहा, कि उप जिलाधिकारी बेवकूफ हैं|

इसके बाद जब यह ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो बात उपजिलाधिकारी मुसाफिरखाना अभय कुमार पांडे तक भी पहुंची । उपजिलाधिकारी पांडे ने ऑडियो को सुना और सुनने के बाद रेखा सिंह के खिलाफ कार्यवाही करने का पत्र जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक अमेठी को लिखा है|

आपको बताते चलें कि तहसील मुसाफिरखाना के ग्राम किशनी निवासी महमूद अहमद पुत्र मोहम्मद अहमद थाना बाजार शुकुल ने एक प्रार्थना पत्र उप जिलाधिकारी को दिनांक 22 मार्च 2017 को दिया जिस पर उन्होंने कहा कि विपक्षीगण उसकी पुरानी पुश्तैनी जमीन पर जबरदस्ती कब्जा कर निर्माण कर रहे हैं ।

इस प्रार्थना पत्र की सुनवाई करते हुए उप जिलाधिकारी ने राजस्व निरीक्षक बाजार शुकुल से आख्या मांगी और एसओ बाजार शुकुल को भी लिखा कि आख्या आने तक निर्माण कार्य रोक दिया जाए| इस आदेश की कॉपी लेकर जब प्रार्थी थाना बाजार शुकुल गया तो थानाध्यक्ष ने पुलिसिया रोब को दिखाते हुए मजिस्ट्रेट के दिए हुए आदेश को फेंक दिया, और कहा कि एस डी एम थोड़ा बेवकूफ है|

यह बात वहां बैठे फरियादी के मोबाइल फोन में रिकॉर्ड हो गई, जिसका ऑडियो आज वायरल हुआ है। थानाध्यक्ष के यह बात बिल्कुल भी ध्यान में नहीं रही कि उनके लिए मजिस्ट्रेट का आदेश ही सर्वोपरि होता है, और मजिस्ट्रेट के विरुद्ध किसी प्रकार की कोई टीका-टिप्पणी किसी भी उपनिरीक्षक को नहीं करनी चाहिए।

थानाध्यक्ष बाजार शुकुल श्रीमती रेखा सिंह के वायरल हुए ऑडियो पर संज्ञान लेते हुए उप जिलाधिकारी मुसाफिरखाना ने अपने उच्च अधिकारियों व पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों को कार्यवाही करने के लिए लिखित शिकायत की है उच्च अधिकारियों द्वारा उपजिलाधिकारी अभय कुमार पांडेय को बताया गया कि श्रीमती रेखा सिंह के खिलाफ कार्यवाही होगी।

उप जिलाधिकारी मुसाफिरखाना अभय कुमार पांडेय ने एसओ बाजार शुक्ल के कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए आज अपनी रिपोर्ट जिले के प्रशासनिक अधिकारियों को भेजी है, और कहा गया है कि यदि कानून व्यवस्था से संबंधित कोई मामला उत्पन्न होता है तो इस बारे में जिम्मेदार श्रीमती रेखा सिंह थानाध्यक्ष बाजार शुकुल होंगी|

क्योंकि वह उप जिलाधिकारी के आदेश को भी नहीं मानेंगे इसलिए इनकी कार्यशैली संतोषजनक नहीं है संतोषजनक कार्य शैली ना होने के कारण रेखा सिंह के खिलाफ कार्रवाई करने की आवश्यकता है।

उप जिला मजिस्ट्रेट की इस रिपोर्ट पर यह माना जा सकता है की एसओ बाजार शुक्ल के ऊपर बहुत बड़ी कार्यवाही हो सकती है ।

रिपोर्ट-हरि प्रसाद यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY