संजय के शव को देख दिव्यांग ने तोड़ा दम, परिजनों ने काटा बवाल, किया चक्का जाम

0
82


सहतवार/बलिया : स्थानीय नगरपंचायत के वार्ड न 1 मे 2 दिसम्बर के रात्रि मे हुयी मारपीट मे घायल युवक ने वाराणसी मे ईलाज दौरान वृहस्पतिवार के रात्रि मे मौत के बाद शनिवार के सुबह बगल के रहने वाले पड़ोसी ( दिव्यांग) लाश देखते ही अचेत होकर गिरने के बाद मौत होने से गुस्साये लोगो ने लाश लेकर सहतवार स्टेशन मार्ग (सिनेमाहाल) और सहतवार बाँसडीह मार्ग पर थाने के सामने दो जगहो पर जाम लगा दिया। सारे लोग मारपीट के बाद आरोपियो की गिरफ्तारी नही होने से पुलिस के प्रति नाराजगी जता रहे थे। स्थिति गम्भीर देख रेवती पुलिस ,बाँसडीह कोतवाली पुलिस सीओ,पीएसी पुलिस मौके पर पहुँच गयी। सीओ जल्द ही गिरफ्तारी के लिए अश्वासन दे रहे थे । लेकिन लोग एस पी के आने की माँग को लेकर अड़े थे। लोग आरोप लगा रहे थे कि आरोपी दारु ओर हिरोईन बेचने का कार्य सारेआम करते है। इसके पहले भी वे लोग कई घटना का अन्जाम दे चुके है। लेकिन सहतवार पुलिस उन लोगो को कुछ नही करती है। वे लोग पुलिस की मिली भगत का भी आरोप लगा रहे थे।अन्त मे 9 बजे सुबह से रोड जाम कर रहे लोग एडीशनल एसपी आने के बाद सीओ स्तर की जाँच के बाद एफ आई आर दर्ज कर गिरफ्तार करने व दोषी पुलिस कर्मियो के हटाने के अश्वासन मिलने के बाद 12 बजे रोड जाम समाप्त हुआ ।


बताया जा रहा है कि दो दिसम्बर के रात्रि मे स्थानीय नगर पंचायत के वार्ड नं 1 निवासी संजय पासवान 25 वर्ष पुत्र भगवान पासवान को पड़ोस के लड़को ने किसी बात को लेकर मारपीटकर गम्भीर रुप से घायल कर दिया था। घायलावस्था मे युवक को घर वालो ने ईलाज के लिए बलिया हास्पिटल ले गये। जहाँ डाक्टर ने स्थिति गम्भीर देख वाराणसी के लिए रेफर कर दिया। जहाँ ईलाज के दौरान युवक ने वृहस्पतिवार के रात्रि मे दम तोड़ दिया। इस मामले मे युवक की माँ पन्नादेवी पत्नी भगवान पासवान ने 3 दिसम्बर को सहतवार थाने मे 8 लोगो के खिलाफ नामजद तहरीर दी थी ।पुलिस तहरीर लेकर मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरु कर दी थी ।लेकिन इस मामले मे कोई गिरफ्तारी नही हुयी थी। संजय का शव शुक्रवार के रात्रि मे उसके घर आया। शव को देखने व परिवार के लोगो को सन्तावना देने वालो का हुजुम उमड़ पड़ा। शनिवार के सुबह 7 बजे के करीब घर के बगल मे रहने वाला दिव्याँग ओमप्रकाश राम ( गुंगदास) 55 वर्ष पुत्र स्व बद्रीराम युवक को देखने आया। जैसे ही संजय को देखा अचेत होकर वही गिर गया। लोग अभी उसको उठाकर हास्पिटल ले जाते तब तक उसने दम तोड़ दिया।

जैसे ही ओमप्रकाश राम ने दम तोड़ा लोग बौखला गये , और पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे,और सहतवार रेलवे स्टेशन जाने वाले मार्ग पर सिनेमा हाल के पास लाश रखकर रोड जाम कर दिया। रोड जाम की खबर सुनते ही सहतवार पुलिस मौके पर पहुँच गयी। गाँव सम्भ्रान्त लोग नीरज सिह “गुड्डू” व शत्रुघ्नपाण्डेय बातचीत के बाद सहतवार एओ हरी राम मौर्या के द्वारा 10 दिन के अन्दर गिरफ्तारी के अश्वासन के बाद जाम समाप्त हुआ ।वही थोड़ी देर बाद सहतवार बाँसडीह मार्ग पर सहतवार थाने के सामने लोग लाश रखकर लोग जाम लगा दिये। जाम की स्थिति गम्भीर देख पुलिस के हाथ पाव फुल गये। तुरन्त मौके पर रेवती पुलिस, बाँसडीह कोतवाली पुलिस के साथ सीओ बाँसडीह अशोक सिह मौके पर दल बल के साथ पहुँच गये। वे लोगो को बहुत समझाने की लेकिन लोग एस पी के आने को लेकर अड़े रहे। अन्त मे एडीशनल एसपी बिजयपाल सिह के आने के बाद सीओ स्तर के जाँच के बाद एफआईकर दर्ज कर गिरफ्तार करने व दोषी पुलिस कर्मियो के हटाने के अश्वासन के बाद दिन मे 12 बजे रोड जाम समाप्त हुआ ।

रिपोर्ट – श्रीकांत चौबे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here