बढ़ती हिंसा देख हिंदू युवा वाहिनी ने रोकी सदस्यता, कहा- भगवा गमछा पहन सपा के लोग कर रहे गुंडई

0
343

उत्तर प्रदेश: प्रदेश में सक्रिय दक्षिणपंथी संगठन हिंदू युवा वाहिनी ने अपने सदस्यता अभियान पर रोक लगा दी है| बताया जा रहा है कि बीते दिनों हिंसा के कई मामलों में संगठन से जुड़े लोगों का नाम आने के बाद यह फैसला लिया गया है| बता दें कि इस संस्था के स्थापना यूपी सीएम आदित्यनाथ योगी की है और इसे आगे बढ़ाने में उन्होंने सक्रिय भूमिका भी निभाई है|

हिंदू युवा वाहिनी के महासचिव पीके मल ने सीएनएन न्यूज 18 से बात करते हुए बताया, ‘उनका संगठन अगले छह महीने या एक साल तक कोई नई सदस्यता स्वीकार नहीं करेगा| उन्होंने आगे कहा, ‘बीजेपी के बाहर के कुछ गुंडे खुद को संगठन के सदस्य के रूप में पेश कर रहे हैं और गौ रक्षा के साथ-साथ लव जिहाद के नाम पर हिंसक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं|

सपा पर लगाया आरोप-
उन्होंने आगे कहा, ‘समाजवादी पार्टी के गुंडे भगवा गमछा पहनकर हिंसा में शामिल हो रहे हैं| इसे देखते हुए हमने अपने सदस्यों को सतर्क रहने का निर्देश दिया है|’ मॉल को आदित्यनाथ योगी का करीबी बताया जाता है| उन्होंने स्वीकार किया कि बुलंदशहर हत्या में तीनों आरोपी युवक संगठन के सदस्य हैं और उनके खिलाफ जो मामले हैं वो मनगढ़ंत हैं|

बताते चलें कि हिंदू युवा वाहिनी का पूर्वी उत्तर प्रदेश में अच्छा-खासा प्रभाव है| गोरखपुर, देवरिया, बस्ती से लेकर मऊ, गाजीपुर और वाराणसी तक इसका प्रभाव देखा जाता है| इसके संस्थापक आदित्यनाथ योगी के सीएम बनने के बाद इसकी लोकप्रियता काफी बढ़ी है और इसका सदस्य बनने के लिए लोगों में होड़ मची हुई है|

रिपोर्ट- मिंटू शर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY