बंदर को बेहोशी की हालत मे देखकर ग्रामिणो ने की वन विभाग को सूचना

कुशीनगर(ब्यूरो) – कोतवाली पडरौना थाना क्षेत्र के मिश्रौली विश्राम पट्टी गांव में रविवार की सुबह बगीचे में बेसुध की हालत मे मिला है। बेसुुुध के हालत पड़े इस बंदर को देख ग्रामीणों के सूचना पर मौके पर पहुची वन विभाग की टीम ने घायल बंदर को इलाज के लिए पशु चिकित्सालय ले गई है जहां उसका इलाज चल रहा है। वही बेहोशी की हालत मे पडे बंदर के शरीर में कई जगह जख्म के निशान दिखाई दे रहे थे। जबकी ग्रामिणो ने आशंका जाहिर किया की बंदर को किसी अराजक तत्वों द्वारा मारा गया है ?

मिली जानकारी के अनुसार कोतवाली पडरौना थाना क्षेत्र के मिश्रौली विश्राम विश्राम पट्टी निवासी कृपा नारायण मिश्र के घर के पीछे स्थित बगीचे में सुबह कुछ बच्चे फूल तोड़ने के लिए गए हुए थे। जहां बेसुध की हालत मे बंदर दिखाई दिया। इस दौरान बच्चों ने घर आकर परिजनो से इसकी सूचना दी। गांव के लोगों ने बगीचे मे पहुच बेसुध की हालत में पडे बंदर को देख उसके शरीर पर पानी के छींटे भी मारी लेकिन बंदर के शरीर में किसी प्रकार की हरकत न आते देख ग्रामीण ग्रामीणों ने इसकी सुचना वन विभाग को दी।

इस दौरान मौके पर पहुंचे वन विभाग की टीम के आलावे कोतवाली पुलिस ने बंदर को अपने कब्जे में लेकर इलाज के लिए नगर स्थित पशु चिकित्सालय लेकर गई है, जहां उसका इलाज चल रहा है। इस दौरान वन विभाग के क्षेत्रीय वन प्रभारी घनश्याम शुक्ला, फोरेस्टर गार्ड डी, पी यादव वन दरोगा विश्वनाथ पाल, कांस्टेबल जवाहर प्रसाद, संजय सिंह, के आलावे पडरौना कोतवाली पुलिस के मिश्रौली चौकी इंचार्ज रामचंद्र सिंह यादव, सहित कांस्टेबल घनश्याम यादव, नेंबू लाल, मौके पर मौजूद रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here