परिवहन सेवा न होने से स्वरोजगार के लाले

0
92

बौण्डी/बहराइच(ब्यूरो)- जब वाहन की उचित व्यवस्था हो तो दूरी चाहे जितनी हो,मंजिल तक जरुर पहुचते है।लेकिन जब वाहन अर्थात जरूरी चीजों की उचित व्यवस्था न होतो हम मंजिल तक नही पहुच सकते। इन्ही बातो से जुडीं एक बौण्डी क्षेत्र की बडी़ समस्या से अवगत कराने जा रहे जो सिर्फ उसी क्षेत्र की नही बल्कि आसपास के क्षेत्रो के विकास में बाधक बन रही है।

जिले मरौचा मोड़ से बौण्डी और जैतापुर आने जाने के लिए सरकारी परिवहन की व्यवस्था नही है। जिससे आसपास के क्षेत्रो के विकास एंव स्वरोजगार में ऐ समस्या बाधक बन रही है।क्षेत्र के लोग अगर स्वरोजगार अपनाने की की सोचे तो वे इस समस्या से मात खा जाते है। वहीं दूसरी ओर छात्र-छात्राओं की अच्छी पढाई पढने के लिए अगर जिला मुख्यालय आना चाहे तो वो रास्ते का कांटा साबित होता है। जिससे छात्र छात्रायें मन मार कर घर पर ही बैठ जाते है।

जैतापुर और बौण्डी कस्बे से जिला मुख्यालय के बीच रोडवेज की परिवहन उपलब्ध न होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जैतापुर और बौण्डी से जिला मुख्यालय की दूरी 32 किलोमीटर है।प्रतिदिन यहां हजारों व्यापारियों, कर्मचारियों, व मजदूरों का जिला मुख्यालय आगमन होता है इन मार्गो पर परिवहन सेवा न होने से यात्रियों को डग्गामार वाहनों से सफर तय करना पड़ता है।

रिपोर्ट-राकेश मौर्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here