शाम होते ही अन्धेरे में गुम हो जाता है रेलवे स्टेशन श्री कृष्णानगर

0
221

बदलापुर/जौनपुर (ब्यूरो)- यात्रियो की सुविधा के लिए रेल विभाग अरबो रुपये भले ही पानी की तरह बहाता हो किन्तु यात्रियो को आज भी आवश्यक सुबिधाएं नही मिल पा रही है। उदाहरण के तौर पर वाराणसी- सुल्तानपुर के मध्य स्थापित रेलवे स्टेशन श्री कृष्णा नगर है। जंहा व्यवस्था के अभाव में शाम होते ही पूरा परिसर अन्धेरे में गुम हो जाता है। ट्रेन आते ही बेचारे यात्री उचक्कों के शिकार होकर हाथ मलकर रह जाते है।

रेलवे स्टेशन श्रीकृष्णा नगर पर शाम साढे सात बजे के लगभग अप एंव डाउन एसजेबी पैसेन्जर तो दस बजे के लगभग वरुणा एक्सप्रेस आती है। जंहा इनके पहुचने पर पूरा परिसर अधेरे में डूबा रहता है।जिसके चलते बेचारे यात्री छिनैती के शिकार हो जाते है। कभी उनकी बैग गायब हो जाती है तो कभी महिलाओ के गले से चेन छीन ली जाती है।

प्रकाश की व्यवस्था न होने से यात्रियों में आक्रोश है। इस संबन्ध में जब स्टेशन अधीक्षक से बात हुयी तो उन्होने बताया कि स्टेशन पर जेनरेटर की व्यवस्था नही है जिसके चलते यह समस्या हो रही है।
रिपोर्ट- डॉ. अमित कुमार पाण्ड़ेय
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY