बीएसपी के लिए चुनाव प्रचार करने पहुंचे दिल्ली के शाही इमाम सहित अन्य मौलाना

0
107

आज़मगढ़ (ब्यूरो)- बीएसपी के समर्थन में आये दिल्ली के शाही इमाम समेत अन्य मौलानाओं पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म खान के नोट के सूटकेस के आरोप पर नई दिल्ली से आजमगढ़ आये गरीब नवाज फाउंडेशन के चेयरमैन मौलाना अंसार रजा ने तीखी टिप्पणी की। मौलाना ने खुद आज़म को बीजेपी का सबसे बड़ा दलाल कहा और पूछा कि कितना रूपये लिए। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि आज़म की जिन्दगी निकल गयी दलाली करते करते जो आदमी दलाल होता है उसे हर कोई दलाल दिखता है।

मौलाना ने अखिलेश के बयान का हवाला देते हुए कहा कि अखिलेश ने कहा कि कुछ लोग पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं जो उनमे और नेताजी में दूरी बनाए हैं। जिस प्रकार से रामगोपाल को बीजेपी का दलाल कहा जाता है, हो सकता है बीएसपी को हराने के लिए सेटिंग हो गयी। ये लोग चाहते हैं की मुस्लिम इकठ्ठा न हो सकें। आज़म को अपनी यूनिवर्सिटी की चिंता है जबकि अखिलेश अब प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं। अपने बीएसपी के समर्थन पर मौलाना ने कहा कि न तो उन्होंने मायावती या किसी अन्य लीडर से कोई बात की है या मुलाक़ात की है, न ही मिलना चाहते हैं।

हिन्दू मुसलमान एक साथ कैसे रहें इसकी चिंता है। आरोप लगाया कि उ.प्र. में यादव समाज, मुलायम सिंह को अपना भगवान मानता है। उनके भगवान्हीं को अखिलेश ने जूती की नोंक पर रखा है। जो अपने बाप का नहीं हुआ वह अखिलेश प्रदेश का कैसे होगा। मौलाना ने बीएसपी को विकास की बात करने वाली पार्टी भी बताया। इसी लिए बदलाव जरुरी बताया।

रिपोर्ट -संदीप त्रिपाठी संगम

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY