शराब कारोबारी सिर्फ शुरूआत, ईडी के निशाने पर कई चर्चित सफेद पोश

0
31


वाराणसी (ब्यूरो)- चंदौली के ‘यादव सिंह’ कहे जाने वाले निलंबित एआरटीओ खुद तो जेल की सलाखों के पीछे निरुद्ध हैं लेकिन उनसे जुड़े लोगों की परेशानियां बढ़ती जा रही हैं। बुधवार को ईडी ने उनके कारोबारी साझीदार शराब कारोबारी दिलीप जायसवाल के महमूरगंज स्थित आवास पर जांच की।

ईडी की टीम तीन घंटे से अधिक समय तक यहां पर रही और आरएस यादव से जुड़े कई कागजात को कब्जे में लिया है। सूत्रों की माने तो दिन •ार चले अभियान में ईडी ने 30 लाख से अधिक की सम्पति के अलावा करोड़ों की बेनामी सम्पति के कागजात कब्जे में लिये हैं। इसके आधार पर कई चर्चित सफेदपोशों की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं क्योंकि आरएस का काला धन उन्होंने कारोबार में लगाया तो जबाव देना मुश्किल होगा।

फर्म में पार्टनर है आरएस के पुत्र-पुत्री-

बताया जाता है कि शराब कारोबारी दिलीप जायसवाल ने रियल स्टेट के काम की खातिर जो फर्म बना रखी है उसमें आरएस यादव के पुत्र अपूर्व और पुत्री ऋचा बराबर की हिस्सेदार हैं। यमुना टाकिज समेत कई विवादित जमीनों का निस्तारण आरएस यादव ने सपा के शासन काल में करा कर मुनाफे में हिस्सेदारी ली थी। ईडी ने जिन लोगों को निशाने पर रखा है उसमें शराब कारोबारी के संग दूसरे साझीदार भी है। ईडी की तरफ से अभी तक की छापेमारी में कोई अधिकृत ब्योरा नहीं दिया गया है लेकिन माना जा रहा है कि एक-दो दिन में कुछ चर्चित नामों को लेर अहम खुलासे हो सकते हैं।

रिपोर्ट- सर्वेश कुमार यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY