टिहरी की रियासत संभालेंगी शीरजा कुमारी

0
236

tihri princess
ऋषिकेश : टिहरी राजवंश में महाराजा मानवेंद्र शाह आठ बार और महारानी राज्यलक्ष्मी शाह वर्तमान में सांसद हैं। अब जबकि शीरजा कुमारी को राजवंश का उत्तराधिकारी नियुक्त किया जा चुका है तो राजनीतिक हलकों में यह चर्चा भी होने लगी है कि क्या परिवार की राजनीतिक विरासत को भी वह आगे बढ़ाएंगी।

टिहरी रियासत के आखिरी नरेश महाराज मनुजेंद्र शाह ने दूसरे लोकसभा चुनाव में टिहरी सीट से जीत हासिल कर राजनीति में पदार्पण किया था। इसके बाद उन्होंने तीसरी, चौथी, 10वीं, 11वीं, 12वीं, 13वीं व 14वीं लोकसभा में भी टिहरी लोकसभा का प्रतिनिधित्व किया। हालांकि, कांग्रेस से राजनीति की शुरूआत करने वाले मानवेंद्र शाह बाद में जनसंघ से होते हुए भाजपा में आ गए थे।

मानवेंद्र शाह के निधन के बाद उनके पुत्र मनुजेंद्र शाह ने टिहरी लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ा, मगर वह जीत हासिल नहीं कर पाये। 16वें लोकसभा चुनाव में महाराजा मानवेंद्र शाह की पुत्रवधू राज्यलक्ष्मी शाह ने इसी सीट पर जीत हासिल कर राजघराने की राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ाया।

अब उनकी पुत्री शीरजा कुमारी राजवंश की उत्तराधिकारी घोषित हो चुकी हैं। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि मां के बाद शीरजा राजपरिवार की राजनीतिक विरासत संभाल सकती हैं। हालांकि, शीरजा कुमारी ने इस तरह की अटकलों को फिलहाल सिरे से खारिज किया है।

रिपोर्ट – शादाब

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY