शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरती गई तो संबंधित के खिलाफ होगी कार्रवाई

जालौन(ब्यूरो)- अधिकारी मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप सुबह कार्यालय में बैठकर जनता की समस्याओं को सुनकर उनका उचित निस्तारण करें। यदि जनता की शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरती गई तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। यह बात सदर विधायक ने अपने कार्यालय पर जनता की समस्याओं को सुनते हुए कही।

शनिवार को सदर विधायक गौरी शंकर वर्मा मिलन गेस्ट हाउस स्थित अपने कार्यालय पर जनता की समस्याओं को सुन रहे थे। जिसमें उन्होंने कहा कि शीघ्र ही सार्वजनिक अस्थाई गौशाला खोले जाने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि उन्हें लगातार शिकायत मिल रही है कि अधिकारी समय से अपने कार्यालय में नहीं बैठते हैं। इस पर उन्होंने कड़ा रूख दिखाते हुए कहा कि यदि अधिकारी अपनी कार्यप्रणाली सुधार लें। यदि लापरवाही जारी रही तो ऐसे अधिकारियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उनके कार्यालय पर रजा मोहम्मद तोपखाना, ओमप्रकाश व दामोदर निवासीगण जोशियाना, राममोहन, हिमांशु तिवारी व सोएब अंसारी निवासी चुर्खीबाल ओमप्रकाश फर्दनवीस सहित लगभग एक दर्जन लोगों ने अपनी-अपनी शिकायतें दर्ज कराईं। जिस पर कार्रवाई करते हुए सदर विधायक ने सभी शिकायतों को संबंधित विभागों में निस्तारण के लिए भेज दिया।

इस मौके पर नगर अध्यक्ष अनिल याज्ञिक, पुनीत मित्तल, रामेंद्र सिंह सेंगर बनाजी, मलखान दोहरे, सतेंद्र खत्री, मंजूरानी कोरी, उपेंद्र गुर्जर, रामू गुप्ता, राजा विश्नोई, अनुज तिवारी, ललित अग्रवाल, केजी संतोष सिंह, धीरज बाथम, सतीश सेंगर, पप्पू चैहान आदि सहित आधा सैंकड़ा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY